लखनऊ, जेएनएन। Mobile Internet services will be stopped for 24 hours in Agra, Meerut and Four other cities in UP. नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध की आड़ में पिछले शुक्रवार (20 दिसंबर) को जुमे की नमाज के बाद हुई व्यापक हिंसा को देखते हुए शुक्रवार को होने वाली जुमे की नमाज के मद्देनजर पूरे प्रदेश में अलर्ट घोषित किया गया है। सुरक्षा व्यवस्था को और मजबूत करते हुए गश्त बढ़ा दी गई है। शरारती तत्वों पर ड्रोन से भी नजर रखी जा रही है। कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। पुलिस प्रशासन का कहना है कि उपद्रवियों से सख्ती से निपटा जाएगा।  

फीरोजाबाद में पिछले शुक्रवार को हुई हिंसा में अब तक छह लोगों की जान जा चुकी है। इसे ध्यान में रखते हुए शुक्रवार को जुमे की नमाज के मद्देनजर प्रशासन ने एहतियातन इंटरनेट सेवा बंद करा दी। आगरा और मथुरा में भी गुरुवार सुबह से ही इंटरनेट सेवा बंद करा दी गई हैं। मिश्रित आबादी में गश्त बढ़ाने के अलावा पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी मुस्लिम समाज के प्रमुख लोगों से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं। गोरखपुर में प्रशासन ने शुक्रवार को शहर, खासकर कोतवाली इलाके में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। दोपहर की नमाज से पहले उपद्रव प्रभावित इलाके में पैरामिलिट्री फोर्स और भारी पुलिस बल तैनात किया जाएगा। सुरक्षा इंतजाम की कमान एसपी सिटी के हाथ में होगी। 

यह भी पढ़ें : NRC और CAA पर तनाव के बीच मौलाना ने की अपील, कहा- जुमे की नमाज के दिन रखें रोजा 

मुरादाबाद मंडल को हाईअलर्ट पर रखा गया है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के अलावा पुलिस के साथ पीएसी एवं पैरामिलिट्री फोर्स मोर्चा संभाले है। गुरुवार को मुरादाबाद मंडल के सभी जिलों में अधिकारियों के साथ पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स ने पैदल मार्च किया। वहीं, मेरठ के डीआइजी दफ्तर में सोशल मीडिया लैब बनी है। यही लैब डिजिटल वालंटियर्स के जरिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सभी जिलों पर नजर रख रही है। मेरठ में पुलिस ने सभी मस्जिदों की सूची बनाकर सुरक्षा के बंदोबस्त किए हैं। अद्र्धसैनिक बलों की पांच कंपनी अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में लगाई हैं। इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। 

बरेली में डीआइजी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि खुफिया टीमें सक्रिय हैं। रामपुर में ड्यूटी के लिए गए पुलिसकर्मी वापस बुला लिए गए हैं। पीएसी और आरएएफ भी तैनात रहेगी। 

गाजियाबाद में जिला प्रशासन ने जिले में बृहस्पतिवार देर रात से 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। बिजनौर में गुरुवार दोपहर से शुक्रवार रात 12 बजे तक के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। धार्मिक स्थलों पर पुलिस, पीएसी तैनात है। शरारती तत्वों पर ड्रोन से नजर रखी जा रही है। गुरुवार को दिनभर शांति समिति की बैठकें चलती रहीं। 

मुजफ्फरनगर में संवेदनशील क्षेत्रों की सुरक्षा आरएएफ, पीएसी को सौंपी गई है। इंटरनेट सेवा पर पाबंदी बरकरार है। सहारनपुर में भी इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई हैं। बुलंदशहर में जुमे की नमाज को लेकर काफी सतर्कता हैं। एक सप्ताह में 687 बैठक कर लोगों से शांति कायम रखने की अपील की गई है। हालांकि, बुलंदशहर के खुर्जा में गुरुवार को शरारती तत्वों ने धार्मिक स्थल के अंदर मांस के टुकड़े फेंककर अराजक तत्वों ने माहौल बिगाडऩे की कोशिश की। संभ्रांत लोगों और पुलिस की सतर्कता के चलते मामला शांत हुआ। 

यह भी पढ़ें : CAA Protest in Lucknow: परिवर्तन चौक पर उपद्रव में ढाई करोड़ से अधिक का नुकसान, 46 आरोपियों की सूची तैयार

शामली में इंटरनेट सेवा गुरुवार शाम छह बजे से बंद कर दी गई। सभी संवेदनशील स्थानों पर फोर्स तैनात है। बदायूं में बिना अनुमति सत्याग्रह करने निकले लोकमोर्चा के 10 पदाधिकारियों को जेल भेज दिया गया। अलीगढ़ में गुरुवार रात 12 बजे से शुक्रवार शाम पांच बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद करने के आदेश जारी किए हैं। शहर को 25 सेक्टरों में बांटकर पुलिस व मजिस्ट्रेट लगाए गए हैं।

नुकसान के आकलन और नोटिस जारी करने के काम में आई तेजी

सीएए के नाम पर हुई हिंसा में सार्वजनिक व निजी संपत्ति को हुए नुकसान और वसूली के लिए नोटिस जारी करने की कवायद और तेज हो गई है। गोरखुपर में जिला प्रशासन ने उपद्रव में लगभग दो लाख रुपये की सार्वजनिक संपत्तियों के नुकसान का अंदेशा जताया है। वसूली के लिए उपद्रवियों को नोटिस भेजने की तैयारी की जा रही है। मेरठ में अभी तक करीब एक करोड़ रुपये के नुकसान का आकलन किया गया है। इसकी रिकवरी के लिए 141 लोगों को नोटिस जारी किए गए हैं। बिजनौर में करीब 90.30 लाख का नुकसान हुआ है। 43 लोगों को नोटिस जारी किया गया है।

मुजफ्फरनगर में 56.80 लाख रुपये का नुकसान हुआ है। एडीएम प्रशासन अमित सिंह ने बताया कि अभी किसी को रिकवरी नोटिस जारी नहीं हुए। अमरोहा में 55 आरोपितों को नोटिस जारी किए गए हैं। उनसे तीन लाख रुपये की वसूली की जाएगी। सम्भल में 11.66 लाख रुपये की रिकवरी के लिए 26 उपद्रवियों को नोटिस भेजे गए हैं। फीरोजाबाद में 25 से 30 लाख रुपये के नुकसान का अनुमान है। एडीएम ने 29 लोगों को सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की भरपाई का नोटिस भेजा है।

इन जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद 

  • फीरोजाबाद : इंटरनेट सेवा बंद 
  • कानपुर : शुक्रवार रात नौ बजे तक इंटरनेट सेवादं बंद 
  • सीतापुर : इंटरनेट सेवा बंद 
  • मेरठ : इंटरनेट सेवा बंद
  • गाजियाबाद : गुरुवार से 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद 
  • बिजनौर : गुरुवार दोपहर से शुक्रवार रात 12 बजे तक के लिए इंटरनेट बंद 
  • मुजफ्फरनगर :  इंटरनेट सेवा पर पाबंदी 
  • सहारनपुर :  इंटरनेट सेवा बंद 
  • बुलंदशहर : 28 दिसंबर की सुबह पांच बजे तक इंटरनेट सेवा बंद 
  • आगरा : गुरुवार सुबह आठ बजे से शुक्रवार शाम छह बजे तक इंटरनेट सेवा बंद 
  • शामली : इंटरनेट सेवा गुरुवार शाम छह बजे से बंद 
  • अलीगढ़ : गुरुवार रात 12 बजे से शुक्रवार शाम पांच बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस