Move to Jagran APP

'बीजेपी में शामिल होने से अच्छा है जेल चले जाओ', टीएमसी नेता की कर्नाटक के विधायकों को सलाह

Karnatka Assembly Election 2023 तृणमूल के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले ने शनिवार को कर्नाटक में आज निर्वाचित होने वाले सभी विधायकों से अपील कर कहा कि अगर यह एक त्रिशंकु विधानसभा है तो बीजेपी (BJP) को मत बेचो।

By Nidhi AvinashEdited By: Nidhi AvinashSat, 13 May 2023 09:56 AM (IST)
'बीजेपी में शामिल होने से अच्छा है जेल चले जाओ', टीएमसी नेता की कर्नाटक के विधायकों को सलाह

कोलकाता, जागरण डेस्क। Karnatka Assembly Election 2023: तृणमूल के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले ने शनिवार को कर्नाटक में आज निर्वाचित होने वाले सभी विधायकों से अपील कर कहा कि अगर यह एक त्रिशंकु विधानसभा है, तो बीजेपी (BJP) को मत बेचो।

बता दें कि साकेत गोखले को अहमदाबाद की एक विशेष अदालत ने नियमित जमानत दे दी। वे क्राउड फंडिंग में अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आरोपों का सामना कर रहे हैं। चंदे के रूप में जुटाई गई 1.07 करोड़ रुपये की राशि का दुरुपयोग करने के आरोप में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उन्हें गिरफ्तार किया था।

साकेत गोखले की अपील

आज कर्नाटक चुनाव के रिजल्ट घोषित होने वाले है और इसी को लेकर साकेत ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'कर्नाटक में आज निर्वाचित होने वाले सभी विधायकों से अपील है कि अगर यह त्रिशंकु विधानसभा है, तो बीजेपी को मत बेचिए। ईडी द्वारा जेल जाने के बाद मैं आपको बता दूं कि जेल भी राक्षसों की पार्टी में शामिल होने से ज्यादा सहने योग्य है। उन लोगों को याद रखें जिन्होंने आपको वोट दिया और सही काम करें।'

6 मई को मिली थी जमानत

6 मई को एक विशेष अदालत द्वारा जमानत दिए जाने के बाद, साकेत के जेल से बाहर आने के बाद, उन्होंने गुजरात में भाजपा सरकार पर यह निशाना साधा। उन्होंने 12 मई को भी ट्वीटर पर कई पोस्ट किए जिसमें उन्होंने अपनी बेगुनाही और न्यायपालिका में अपने विश्वास को दोहराया। उन्होंने अपने ट्वीट पर कहा, '2019-20 के बीच जिन 1700 लोगों ने मुझे क्राउडफंड किया, उनमें से एक डोनर (संयोग से गुजरात सरकार के एक अधिकारी) द्वारा 500 रुपये की शिकायत का इस्तेमाल मुझ पर 'मनी लॉन्ड्रिंग' का आरोप लगाने के लिए किया गया था।'

'अपनी बेगुनाही पर भरोसा'

साकेत ने कहा कि मुझे अपनी बेगुनाही और हमारी न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। मुझे भरोसा है कि मुझे न्याय मिलेगा। मैंने इन वर्षों में पूरे समर्पण के साथ काम किया है और मैं वह काम करना जारी रखूंगा जो मैंने हमेशा सही भावना से किया है।'साकेत ने आगे लिखा कि उन्हें 20 दिनों के अंतराल में दिसंबर में गुजरात पुलिस द्वारा 3 बार गिरफ्तार किया जा चुका है।

कर्नाटक के विधायकों को संदेश

कर्नाटक में कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर देखी जा रही है। कांग्रेस के सिद्धारमैया ने कथित तौर पर समर्थन के लिए 10 निर्दलीय उम्मीदवारों से बात की