Move to Jagran APP

राहुल गांधी के खिलाफ अब वीर सावरकर के अपमान का मामला दर्ज करने की मांग, शिवसेना और BJP ने उठाया मुदा

वीर सावरकर के अपमान पर महाराष्ट्र विधानसभा में शिवसेना और भाजपा का कांग्रेस पार्टी के साथ गतिरोध दिखा जिसके बाद सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी। राष्ट्रीय हस्तियों का अपमान करने और विदेश में देश की छवि खराब करने के लिए दोनों पार्टियों ने कार्रवाई करने को कहा।

By AgencyEdited By: Mahen KhannaPublished: Fri, 24 Mar 2023 02:25 AM (IST)Updated: Fri, 24 Mar 2023 06:53 AM (IST)
Rahul Gandhi शिवसेना और भाजपा ने राहुल के खिलाफ हल्ला बोला।

मुंबई, प्रेट्र। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना (शिंदे गुट) और भाजपा के सदस्यों ने विधानसभा में राहुल गांधी पर गुरुवार को जमकर निशाना साधा। आरोप लगाया कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने वीर सावरकर जैसी राष्ट्रीय हस्तियों के विरुद्ध अपमानजनक टिप्पणी की है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय हस्तियों का अपमान करने और विदेश में देश की छवि खराब करने के लिए भी उनके खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए।

राहुल के खिलाफ प्रस्ताव लाने की अनुमति भी मांगी

इस बीच, विधानसभा अध्यक्ष से राहुल के खिलाफ प्रस्ताव लाने की अनुमति भी मांगी गई। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने सदन में यह विषय उठाते हुए कहा कि राहुल गांधी ने कई बार सावरकर का अपमान किया है। शिवसेना के ही संजय शिरसत ने आग्रह किया कि राहुल के खिलाफ प्रस्ताव लाने की अनुमति दी जाए। भाजपा विधायक आशीष सेलार ने कहा कि राहुल को माफी मांगनी चाहिए।

कांग्रेस नेता बालासाहेब थोरात ने बोलने की अनुमति मांगी तो सेलार ने तंज कसते हुए कहा कि क्या थोरात माफी मांगेंगे। इसके बाद सत्तापक्ष के सदस्य आसन के निकट पहुंच गए और राहुल गांधी के विरुद्ध नारे लगाए। इस पर गतिरोध के बाद सदन की कार्यवाही को एक बार 10 मिनट और फिर आधे घंटे के लिए स्थगित करनी पड़ी।

राहुल के पोस्टर के साथ अभद्रता, कांग्रेस ने की आलोचना

विधानमंडल परिसर की सीढि़यों पर राहुल गांधी के पोस्टर को चप्पल से मारने के लिए विपक्षी महाविकास आघाड़ी के विधायकों ने भाजपा-शिवसेना के सदस्यों की आलोचना की। विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने भी सत्तारूढ़ गठबंधन के विधायकों की इस हरकत पर नाराजगी जताई और जांच का वादा किया।

विधानभवन में साथ आते दिखे फडणवीस और ठाकरे

महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के नेता उद्धव ठाकरे एक-दूसरे से बातचीत करते हुए विधानभवन में पहुंचे और उन्होंने वहां खड़े मीडियाकर्मियों का एक साथ अभिवादन किया। विधान परिषद सदस्य ठाकरे मराठी भाषा विभाग की बैठक में भाग लेने आये थे। अविभाजित शिवसेना और भाजपा के रिश्तों में 2019 के विधानसभा चुनावों के बाद दरार आ गई थी। तब से फडणवीस और ठाकरे के बीच भी प्रतिद्वंद्विता देखी जा रही है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.