Move to Jagran APP

'कथनी और करनी के बीच के अंतर को नरेंद्र मोदी कहते हैं', वंशवादी राजनीति पर राहुल गांधी ने भाजपा पर बोला हमला

राहुल गांधी ने वंशवादी राजनीति को लेकर मंगलवार को मोदी सरकार पर निशाना साधा और एनडीए सरकार को परिवार मंडल करार दिया। उन्होंने मोदी सरकार के तीसरे चरण में शामिल कई मंत्रियों का भी जिक्र किया जो राजनीतिक परिवारों से आते हैं। राहुल गांधी ने कहा पीढ़ियों के संघर्ष सेवा और त्याग की परंपरा को भाई-भतीजावाद कहने वाले लोग सत्ता की इच्छा को अपने सरकारी परिवार में बांट रहे हैं।

By Agency Edited By: Nidhi Avinash Published: Tue, 11 Jun 2024 06:19 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 06:19 PM (IST)
वंशवादी राजनीति पर राहुल गांधी ने भाजपा पर बोला हमला (Image: ANI)

पीटीआई, नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने वंशवादी राजनीति को लेकर मंगलवार को मोदी सरकार पर निशाना साधा। साथ ही एनडीए सरकार को 'परिवार मंडल' करार दिया। उन्होंने मोदी सरकार के तीसरे चरण में शामिल कई मंत्रियों का भी जिक्र किया जो राजनीतिक परिवारों से आते हैं।

दरअसल, राहुल गांधी का यह पोस्ट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस पर 'वंशवादी राजनीति' करने का आरोप लगाने के जवाब में आया है।

'सरकारी परिवार' में बांट रहे सत्ता

राहुल गांधी ने x पर हिंदी में पोस्ट कर लिखा, 'पीढ़ियों के संघर्ष, सेवा और त्याग की परंपरा को भाई-भतीजावाद कहने वाले लोग सत्ता की इच्छा को अपने 'सरकारी परिवार' में बांट रहे हैं। उन्होंने कहा, 'कथनी और करनी के बीच के इस अंतर को नरेंद्र मोदी कहते हैं।'

अपने पोस्ट में राहुल ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के बेटे एचडी कुमारस्वामी, पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया के बेटे ज्योतिरादित्य सिंधिया, अरुणाचल प्रदेश के पहले प्रोटेम स्पीकर रिनचिन खारू के बेटे किरेन रिजिजू, महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे की बहू रक्षा खडसे और पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के पोते जयंत चौधरी को एनडीए के 'परिवार मंडल' का हिस्सा बताया।

राहुल गांधी ने गिनाई लिस्ट

इस लिस्ट में उन्होंने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर के पुत्र राम नाथ ठाकुर, पूर्व केंद्रीय मंत्री टेरेन नायडू के पुत्र राम मोहन नायडू, पूर्व सांसद जितेंद्र प्रसाद के पुत्र जितिन प्रसाद, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री राव बीरेंद्र सिंह के पुत्र राव इंद्रजीत सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री वेद प्रकाश गोयल के पुत्र पीयूष गोयल के नाम भी शामिल किए। 

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के पोते रवनीत सिंह बिट्टू, अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की बेटी अनुप्रिया पटेल, उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री महाराज आनंद सिंह के बेटे कीर्ति वर्धन सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान और पूर्व सांसद एवं मध्य प्रदेश की मंत्री जयश्री बनर्जी के दामाद जे पी नड्डा उन लोगों में शामिल हैं जिनके बारे में गांधी ने कहा कि ये सभी भाई-भतीजावाद के उत्पाद हैं।

यह भी पढ़ें: मोदी के मंत्रिमंडल में साउथ पर फोकस : अकेले इस राज्‍य से पांच को बनाया मंत्री; सौंपे वित्त समेत चार अहम मंत्रालय

यह भी पढ़ें: Rajasthan Politics: कांग्रेस की 'जीत' पूर्व सीएम पर ही पड़ी भारी, सचिन पायलट की उड़ान में जुड़े गहलोत समर्थक


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.