Move to Jagran APP

Parliament Session 2023: संसद में आज भी हंगामा, लोकसभा की कार्यवाही शाम 6 बजे तक स्थगित

Parliament Session 2023 Live सत्ताधारी भाजपा ने अपने सांसदों को तीन लाइन का व्हिप जारी किया है। भाजपा सांसदों से आज लोकसभा की कार्यवाही में मौजूद रहने का निर्देश दिया गया है। लोकसभा और राज्यसभा में आज भी हंगामा हुआ।

By Jagran NewsEdited By: Manish NegiPublished: Thu, 23 Mar 2023 09:26 AM (IST)Updated: Thu, 23 Mar 2023 11:21 AM (IST)
Parliament Session 2023: BJP ने अपने सांसदों को जारी किया व्हिप

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। केंद्र सरकार और विपक्ष के हंगामे के चलते संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में एक दिन भी काम नहीं हो सका है। भाजपा राहुल गांधी के लंदन में दिए बयान को लेकर माफी की मांग कर रही है, जबकि कांग्रेस अदाणी के मुद्दे पर जेपीसी जांच की मांग पर अड़ी हुई है। गतिरोध खत्म करने के लिए राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बैठक भी बुलाई, लेकिन बेनतीजा रही।

संसद में आज भी हंगामा

गौतम अदाणी और राहुल गांधी से माफी की मांग के मुद्दे पर संसद के दोनों सदनों में आज भी हंगामा हुआ। हंगामे के चलते लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। इसके बाद कार्यवाही शुरू हुई तो फिर हंगामा हुआ। लोकसभा की कार्यवाही शाम 6 बजे तक के लिए स्थगित की गई है, जबकि  

भाजपा सांसदों को व्हिप

बजट सत्र के दूसरे चरण में संसद की कार्यवाही एक दिन भी नहीं चल पाई है। ऐसे में कई महत्वपूर्ण विधेयक पास कराने के लिए लंबित हैं। इसलिए, भाजपा ने अपने सभी लोकसभा सांसदों को आज सदन में उपस्थित रहने के लिए तीन लाइन का व्हिप जारी किया है।

Live Updates:

  • लोकसभा की कार्यवाही शाम 6 बजे तक के लिए स्थगित
  • लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित की गई।
  • अदाणी ग्रुप के मुद्दे पर चर्चा के लिए कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने राज्यसभा में नोटिस दिया।
  • कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने अदाणी मुद्दे पर जेपीसी जांच की मांग को लेकर चर्चा के लिए नोटिस दिया है।
  • कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने "चीन के साथ सीमा स्थिति" पर चर्चा करने के लिए लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया।

सातवें दिन भी संसद ठप

इससे पहले बजट सत्र के सातवें दिन यानी मंगलवार को भी संसद नहीं चल पाई। हंगामे के बीच जम्मू-कश्मीर का बजट लोकसभा में बिना चर्चा के ही पास कर दिया गया। सत्ता पक्ष और विपक्ष कार्यवाही ना चलने के लिए एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.