नई दिल्ली [किशन कुमार]। देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर बृहस्पतिवार को पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है और देशभर में रन फॉर यूनिटी का आयोजन किया जा रहा है। देश की राजधानी दिल्ली में भी रन फॉर यूनिटी को गृह मंत्री अमित शाह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने पूर्व में केंद्र में सत्तासीन कांंग्रेस की सरकारों पर हमला करते हुए कहा कि देश की आजादी के बाद लौह पुरुष को कोई विशेष सम्मान भी नहीं मिला। उनका इशारा कांग्रेस की सरकार पर था। साथ ही कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों से लोहा व मिट्टी एकत्रित कर गुजरात में पटेल की विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति बनवाई।

अनुच्छेद 370 के न हटाए जाने पर बोला कांग्रेस सरकार पर हमला

इस मौके पर अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा कि देश को आजादी मिलने के बाद सरदार पटेल ने करीब 550 रियासतों को एक करने का काम किया। उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर भारत का हिस्सा होकर भी अलग था, इसके बाद भी पिछले 70 सालों में किसी सरकार ने इसे छूना भी मुनासिब नहीं समझा। वर्ष 2019 में लोगों ने केंद्र सरकार को चुना, जिसके बाद 5 अगस्त की ऐतिहासिक तारीख पर संसद में अनुच्छेद 370 व 35 ए हटाकर सरदार वल्लभ भाई पटेल का अधूरा सपना पूरा हुआ। अनुच्छेद 370 व 35 ए देश में एंट्री का गेटवे बने हुए थे, जिसे केंद्र सरकार ने रुक जाओ का फाटक लगाकर बंद करने का काम किया है। आज जो देश का मानचित्र हम लोगों के सामने हैं वह सरदार पटेल के प्रयासों से है।

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप