मुंबई, एजेंसियां। मुंबई क्रूज ड्रग्स केस को लेकर महाराष्ट्र की सियासत में उबाल जारी है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता और उद्धव सरकार में मंत्री नवाब मलिक को कानूनी नोटिस भेजा है। उन्होंने उनपर उनके परिवार की छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए उनके कथित अपमानजनक ट्वीट को लेकर यह नोटिस भेजा है। बता दें कि इससे पहले नवाब मलिक के दामाद समीर खान ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को 'बिना किसी प्रमाण के उनके खिलाफ निराधार आरोप' लगाने के लिए पांच करोड़ रुपये का मानहानि नोटिस भेजा है और उनसे लिखित माफी की भी मांग की है।

अमृता ने ट्वीट करके कहा, 'नवाब मलिक ने कुछ तस्वीरों सहित कुछ अपमानजनक, भ्रामक और दुर्भावनापूर्ण ट्वीट्स शेयर की है! आइपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत आपराधिक कार्यवाही सहित मानहानि का नोटिस भेजा गया है। या तो वे बिना शर्त सार्वजनिक माफी के साथ 48 घंटे में ट्वीट हटा दें या कार्रवाई का सामना करें!

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस को लेकर महाराष्ट्र में गहमागहमी

हाई प्रोफाइल मुंबई क्रूज ड्रग्स केस को लेकर महाराष्ट्र में गहमागहमी का माहौल है। गत दो अक्टूबर को मुंबई से गोवा जा रही कार्डेलिया क्रूज पर एनसीबी ने ड्रग्स पार्टी का भांडाफोड़ किया था। मामले में बालीवुड अभिनेता शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान समेत कई लोग गिरफ्तार हुए थे। अब इस मामले को लेकर नवाब मलिक और देवेंद्र फडणवीस आमने-सामने हैं। दोनों के बीच एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगाने का दौर जारी है।

एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगाने का दौर

नवाब मलिक ने पिछले हफ्ते पूर्व सीएम फडणवीस और उनकी पत्नी के साथ कथित ड्रग्स डीलर की तस्वीर ट्वीट की। इसके बाद फडणवीस ने आरोप लगाया कि एनसीपी नेता, उनके परिवार के सदस्यों और 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट मामले के दो दोषियों के बीच जमीन का सौदा हुआ है। मंत्री ने आरोपों का खंडन किया था।

मलिक के दामाद ने फडणवीस को भेजा नोटिस

वहीं मलिक के दामाद समीर खान ने बगैर किसी प्रमाण के अपने ऊपर निराधार आरोप लगाने का आरोप लगाते हुए फडणवीस को पांच करोड़ रुपये का मानहानि नोटिस भेजा है। साथ ही उनसे लिखित माफी की भी मांग की है। इसे महाराष्ट्र भाजपा के एक प्रवक्ता ने कहा कि वे कानूनी रूप से नोटिस का जवाब देंगे। नवाब मलिक की बेटी नीलोफर मलिक खान ने गुरुवार को अपने ट्विटर हैंडल पर 10 नवंबर के कानूनी नोटिस का एक स्नैपशाट पोस्ट किया।

समीर खान जनवरी में हुए थे गिरफ्तार

समीर खान को इस साल जनवरी में एनसीबी ने कथित ड्रग्स मामले में गिरफ्तार किया था। उन्हें सबूतों के अभाव में सितंबर में एक अदालत ने जमानत दे दी थी। फडणवीस को भेजे गए कानूनी नोटिस में, समीर खान के वकील ने उल्लेख किया कि उनके मुवक्किल को एनसीबी द्वारा दर्ज एक मामले में फंसाया गया था। आरोप लगाया गया था कि वह एक ड्रग सिंडिकेट में शामिल थे। जुलाई में आरोप पत्र दाखिल करने के बाद खान को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

फडणवीस का बयान

वहीं, फडणवीस ने 1 नवंबर को एक समाचार चैनल को दिए एक बयान में कहा कि 'मलिक के दामाद के पास से ड्रग्स पाया गया था। उन्होंने यह भी कहा कि जिनके घर ड्रग्स पाया गया था, उनकी पार्टी क्या होगी।'

Edited By: Tanisk