बेंगलुरु, एएनआइ। Karnataka Bypolls election:कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा ने अपने पहली सूची जारी कर दी है। भाजपा ने 13 प्रत्याशियों की सूची जारी की है। पार्टी ने अयोग्य विधायकों को टिकट दिया है। बता दें कि अगले महीने 5 दिसंबर को कर्नाटक उपचुनाव होने हैं। 9 दिसंबर को इसके परिणाम आएंगे। 

इससे पहले कांग्रेस और जेडीएस के 15 बागी विधायक ने भाजपा का दामन थाम लिया है। राज्य के सीएम बीएस येदियुरप्पा की मौजूदगी में बेंगलुरु में बागी विधायक भाजपा में शामिल हुए। बता दें कि 17 विधायकों को कर्नाटक के पूर्व स्पीकर ने अयोग्य घोषित किया था। इसके बाद बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने इन विधायकों को चुनाव लड़ने की अनुमति दे दी थी। हालांकि, कोर्ट ने उनकी आयोग्यता को बरकरार रखा। 

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भारतीय जनता पार्टी ने एक आधिकारिक बयान जारी किया था, जिसमें कहा गया है कि राज्य के अयोग्य विधायक गुरुवार को सत्तारूढ़ भाजपा में शामिल होने के लिए तैयार हैं। बुधवार को सूत्रों ने बताया कि भाजपा राज्य के आगामी उप-चुनावों में अयोग्य कर्नाटक विधायकों को मैदान में उतार सकती है।  

17 सीटों में से 15 पर  उपचुनाव 

सूत्रों ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित शीर्ष नेतृत्व ने अयोग्य ठहराए गए विधायकों को उनकी पूर्व की सीटों से मैदान में उतारने के लिए हरी झंड़ी दे दी। कथित तौर पर बुधवार को आयोजित एक उच्च-स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया, जिसमें राज्य के वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे।राज्य में उपचुनाव 5 दिसंबर को 17 सीटों में से 15 पर होंगे।

कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार जुलाई में गिरी

सूत्रों के मुताबिक, रोशन बेग का नाम भाजपा में तब तक शामिल नहीं किए जाएंगे, जब तक उन्हें आईएमए पोंजी घोटाले में क्लीन चिट नहीं मिल जाती। कर्नाटक चुनाव में, भाजपा 105 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी, लेकिन 225 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत हासिल करने में विफल रही। पार्टी उम्मीद कर रही है कि 15 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में उनकी सीटों में इजाफा होगा। बता दें कि जुलाई में कुमारस्वामी की अगुवाई में 14 महीने पुरानी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार इस साल जुलाई में गिर गई थी

 

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप