शिमला, एजेंसी। हिमाचल प्रदेश चुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत के बाद अब प्रदेश में सीएम पद को लेकर राजनीति गरम है। हिमाचल में कांग्रेस ने 68 में से 40 सीटों पर जीत हासिल की है। भाजपा को 25 सीटों पर समेटने वाली पार्टी कांग्रेस की हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह और वीरभद्र सिंह की पत्नी का सीएम पद को लेकर बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को प्रदेश में जीत दिलाना मेरा काम था और मैंने इसे ईमानदारी से निभाया, अब यह हाईकमान का काम है कि कौन सीएम बने इसका फैसला करे।

हाईकमान वीरभद्र सिंह के परिवार को नकार नहीं सकता

विधायक दल की बैठक से पहले प्रतिभा सिंह ने कहा कि हिमाचल में हुए चुनाव में कांग्रेस ने वीरभद्र सिंह के नाम और उनके काम पर लड़ाई लड़ी। अब उनकी उपेक्षा नहीं की जा सकती। प्रतिभा ने कहा कि हम उनके नाम, चेहरे और काम पर जीते थे। ऐसा नहीं हो सकता कि परिवार का उपयोग किया जाए और किसी और को श्रेय दे दिया जाए। प्रतिभा सिंह ने आगे कहा कि हाईकमान ऐसा नहीं करेगा। 

सोनिया गांधी द्वारा दी गई जिम्मेदारी ईमानदारी से निभाई

प्रतिभा ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की बड़ी जिम्मेदारी सोनिया गांधी ने मुझे दी थी और उन्होंने मुझसे कहा था कि वह मुझे राज्य प्रमुख के रूप में चुन रही हैं और अब मुझे सभी 68 निर्वाचन क्षेत्रों में जाना होगा और राज्य जीतना होगा। प्रतिभा ने कहा कि सोनिया गांधी द्वारा दी गई जिम्मेदारी मैंने अच्छे से पूरी की है, अब उनकी बारी है। 

सीएम को लेकर आज विधायक दल की बैठक 

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला लेने के लिए कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज शाम 3 बजे होगी। बैठक में हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी राजीव शुक्ला, पर्यवेक्षक भूपेश बघेल और भूपेंद्र हुड्डा भी मौजूद रहेंगे।

Edited By: Mahen Khanna

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट