नई दिल्‍ली, एजेंसी। पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Ex-Pres Pranab Mukherjee) ने कहा है कि भारत साल 2024 तक पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों की मजबूत नींव के कारण ही ऐसा होगा। इस कामयाबी के पीछे पिछली सरकारों और सभी दलों की मेहनत शामिल है। पूर्व राष्‍ट्रपति ने देश की उपलब्धियों को किसी पार्टी भर का बताये जाने पर अफसोस जताते हुए पिछले 55 वर्षों की कांग्रेस शासन की आलोचना को भी गलत बताया। हालांकि उन्‍होंने यह भी कहा कि वह इस बात से सहमत हैं कि गैर-कांग्रेसी सरकारों ने भी देश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को एक कार्यक्रम में कहा कि वित्त मंत्री कह सकती हैं कि भारत 2024 में पांच ट्रिलियन अर्थव्यवस्था बन जाएगा। ऐसा स्‍वर्ग से नहीं होने जा रहा है। यह ब्रिटिशों के जरिए भी नहीं बल्कि स्वतंत्रता के बाद से भारतीयों के अथक प्रयास से ऐसा संभव हुआ है। इसकी मजबूत नींव पहले रखी जा चुकी है। आजादी के बाद से भारतीयों के प्रयासों के कारण कई आर्थिक और सामाजिक क्षेत्र अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

पूर्व राष्‍ट्रपति ने कांग्रेस के पिछले 55 साल की आलोचनाओं को गलत बताते हुए कहा कि जो लोग कांग्रेस के 50-55 साल के शासन की आलोचना करते हैं, वे भूल जाते हैं कि आजादी के समय भारत की क्या स्थिति थी। यदि आज भारत पांच खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने जा रहा है तो यह पूर्वजों द्वारा रखी गई 1.8 ट्रिलियन डॉलर की मजबूत नींव का नतीजा है। बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करने के दौरान भारत को आने वाले वर्षों में पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की बात कही थी।  

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप