नई दिल्ली, एएनआइ। कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने रविवार को कहा कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक महज एक औपचारिकता थी क्योंकि सोनिया गांधी 21 साल से पार्टी की पूर्णकालिक अध्यक्ष हैं।

सिंह ने कहा, 'सीडब्ल्यूसी की बैठक सिर्फ एक औपचारिकता थी क्योंकि सोनिया गांधी 21 साल से पार्टी की पूर्णकालिक बॉस हैं। पार्टी अध्यक्ष का अगला चुनाव सितंबर 2022 को होगा। पार्टी अध्यक्ष का कोई पद रिक्त नहीं है। सोनिया गांधी कांग्रेस पार्टी की सर्वकालिक बॉस हैं। वह 21 साल से पार्टी की सारी बागडोर संभाल रही हैं।' कांग्रेस के दिग्गज नेता ने कहा कि शनिवार को हुई सीडब्ल्यूसी की बैठक का कोई ठोस नतीजा नहीं निकला। बैठक से पहले शोर मचाने वाले जी23 सदस्य भी बैठक के दौरान चुप थे।

यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस पार्टी ने पार्टी में नेताओं को एकजुट करने के लिए अगले साल कई राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाई थी। सिंह ने जवाब दिया, 'कांग्रेस पार्टी को मिलकर काम करना चाहिए नहीं तो वह राजनीति में बीजेपी से पिछड़ जाएगी और अगर ऐसा ही चलता रहा तो वह पीछे रह जाएगी।'

नटवर सिंह ने कहा कि पार्टी पिछले चुनावों में जिस तरह से जमीन पर प्रदर्शन कर रही है, वह विधानसभा चुनावों में पांच में से एक से अधिक राज्यों में नहीं जीतेगी। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि कांग्रेस पार्टी एक से अधिक राज्यों में अपनी जीत दर्ज करेगी क्योंकि उसका कोई संगठन नहीं है .... लेकिन यह भी सच है कि कांग्रेस के अलावा कोई अन्य पार्टी नहीं है जो विपक्ष की भूमिका निभा सकती है।

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शनिवार को संपन्न हुई। सीडब्ल्यूसी की बैठक कांग्रेस पार्टी की सर्वोच्च संस्था है जो अध्यक्ष पद के चुनाव और कई अन्य मुद्दों पर फैसला करती है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 23 (जी-23) नेताओं के समूह पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए शनिवार को कहा कि मीडिया के माध्यम से उनसे बात करने की कोई जरूरत नहीं है। कांग्रेस के 23 सदस्यों (जी -23) के एक प्रतिनिधिमंडल ने पिछले साल अगस्त में सोनिया गांधी को एक पत्र लिखकर कई संगठनात्मक सुधारों की मांग की थी।

Edited By: Manish Pandey