जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। कांग्रेस के नए अध्यक्ष के चुनाव की तेज होती सरगर्मी के बीच पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण ने सभी 9,000 से अधिक प्रदेश-एआइसीसी प्रतिनिधियों को क्यूआर कोड आधारित फोटो पहचान पत्र जारी करने का फैसला किया है। ये सभी प्रतिनिधि ही कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में निर्वाचक मंडल के सदस्य हैं। कांग्रेस केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने चुनाव तैयारियों की समीक्षा बैठक के बाद सभी प्रदेशों के रिटर्निंग अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि 20 सितंबर से पहले पहचान पत्र जारी कर दिए जाएं। साथ ही यह भी कहा गया है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों और एआइसीसी के प्रतिनिधियों के चुनाव की प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाए।

अध्यक्ष चुनाव से पहले प्रदेशों और जिला अध्यक्षों की नियुक्ति पर सोनिया ही लगाएंगी मुहर

कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिहाज से चुनाव प्राधिकरण का यह कदम इसलिए अहम है क्योंकि संगठन चुनाव की पारदर्शिता को लेकर पार्टी के असंतुष्ट खेमे के कुछ नेताओं की ओर से ही सवाल उठाए जा रहे हैं। मगर मिस्त्री की इस पहल के बावजूद अंसतुष्ट नेताओं के सवालों के तीर अभी थमेंगे, इसको लेकर संदेह है। इसकी वजह है कि नए कांग्रेस अध्यक्ष की नियुक्ति से पहले प्रदेश अध्यक्षों और जिला अध्यक्षों की नियुक्ति की प्रक्रिया अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ही करेंगी।

चुनाव प्राधिकरण के प्रमुख मिस्त्री ने सभी प्रदेश चुनाव अधिकारियों को जारी किया निर्देश

मनोनीत श्रेणी के एआइसीसी प्रतिनिधियों का मनोनयन भी वही करेंगी। वैसे कांग्रेस अध्यक्ष की चुनाव प्रक्रिया के तहत पहले भी ऐसा होता रहा है, लेकिन पार्टी की अंदरूनी सियासत में इस समय बिखराव कहीं ज्यादा है और ऐसे में इस पर सवाल उठाए जा सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, पार्टी केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के प्रमुख मिस्त्री ने बुधवार को सभी प्रदेशों के रिटर्निंग अधिकारियों के साथ बैठक में संगठन चुनाव की तैयारियों को गति देने की बात करते हुए क्यूआर कोड आधारित पहचान पत्र निर्वाचक मंडल के सभी सदस्यों को जारी किए जाने की जानकारी दी।

सभी एआइसीसी प्रतिनिधियों के चुनाव की प्रक्रिया को पूरा करने का निर्देश

उन्होंने पार्टी के चुनाव अधिकारियों से 16 से 20 सितंबर के बीच हर राज्य में सभी एआइसीसी प्रतिनिधियों के चुनाव की प्रक्रिया को पूरा कर लेने के लिए कहा। इस निर्देश के बाद तमाम राज्यों में इनसे जुड़े चुनाव कार्यक्रमों को जल्द ही जारी किया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव की अधिसूचना 22 सितंबर को जारी होगी और इससे पहले प्रदेश व एआइसीसी के मतदाता सूची के प्रतिनिधियों की सूची प्रकाशित की जाएगी। जबकि 24 से 30 सितंबर के बीच नामांकन दाखिल किए जाएंगे और 17 अक्टूबर को चुनाव होंगे।

अशोक गहलोत प्रबल दावेदार, असंतुष्ट खेमा भी प्रत्याशी उतारने की तैयारी में

राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने से इन्कार करने के साफ संकेतों के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अध्यक्ष बनने के सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। गांधी परिवार के करीबी होने के अलावा गहलोत को कांग्रेस में लगभग सभी वर्गों के नेताओं का भी समर्थन है। लेकिन इसके बावजूद कांग्रेस अध्यक्ष के लिए चुनावी मुकाबला होने के पूरे आसार बन रहे हैं। पार्टी का असंतुष्ट खेमा अपना उम्मीदवार उतारने की तैयारियों में जुटा है और मुखर नेता शशि थरूर के अध्यक्ष पद के चुनावी मैदान में उतरने की संभावना से इन्कार नहीं किया जा रहा है।

Edited By: Arun Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट