नई दिल्ली,एजेंसी। कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में कांग्रेस सदन का नेता बनाया है। कहा जा रहा है कि पहले इस पद के लिए राहुल गांधी का नाम तय किया गया था, लेकिन उनके इनकार के बाद अधीर रंजन को लोकसभा में कांग्रेस का नेता बनाया गया।  इसे लेकर पार्टी की ओर से लोकसभा को पत्र भी लिखा गया है जिसमें कहा गया कि अधीर रंजन चोधरी लोकसभा में विपक्ष के नेता होंगे और वह सभी अहम वर्गों और समितियों का प्रतिनिधित्व करेंगे।
जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में 17वीं लोकसभा के प्रथम सत्र से पहले चौधरी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तारीफ करते हुए उन्हें फाइटर बताया था। दरअसल, कॉन्फ्रेंस रूम से बाहर निकलते वक्त पीएम मोदी ने उनकी पीठ थपथपाते हुए बाकी सभी नेताओं के सामने कहा था कि चौधरी एक फाइटर हैं।
गौरतलब है कि दिल्ली में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस संसदीय रणनीति समूह की बैठक हुई। इस बैठक में  पार्टी के तमाम बड़े नेता  एके एंटनी, जयराम रमेश, गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, पी चिदंबरम, अधीर रंजन चौधरी और के सुरेश मौजूद रहे। अब यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी आज (मंगलवार) को संसद में विपक्षी नेताओं से मुलाकात की।

सुबह कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने बैठक के बारे में जानकारी देते हुए कहा था कि गुलाम नबी आजाद ने सर्वदलीय बैठक में हुई चर्चाओं के बारे में जानकारी दी थी। हमने अहम मुद्दों पर चर्चा की और अब हम विपक्षी दलों के साथ बैठक करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के नाम को लेकर फिलहाल कोई चर्चा नहीं हुई है।

 कांग्रेस अध्यक्ष की मौजूदा स्थिति को लेकर भी असमंजस बना हुआ है। जानकारी के लिए बता दें कि राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में  इस्तीफा देने की बात कही थी। जिसके बाद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें ऐसा करने से मना किया था।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ayushi Tyagi