नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। देशभर में कांग्रेस महंगाई और बेरोजगारी को लेकर सड़कों पर है। कांग्रेस नेताओं ने विभिन्न राज्यों में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर मोदी सरकार को आड़े हाथ लिया। राहुल ने महंगाई से लेकर जांच एजेंसियों की कार्रवाई तक के मुद्दे पर भाजपा को आड़े हाथ लिया। इस दौरान विरोध के तौर पर वो बाजु में काली पट्टी पहने नजर आए।

देश में चार लोगों की तानाशाही- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि हम देश में लोकतंत्र की मौत देख रहे हैं। भारत ने लगभग एक सदी पहले से जो ईंट-पत्थर से बनाया है, वह आपकी आंखों के सामने नष्ट हो रहा है। जो कोई भी तानाशाही की शुरुआत के विचार के खिलाफ खड़ा होता है, उस पर शातिर हमला किया जाता है, जेल में डाला जाता है, गिरफ्तार किया जाता है और पीटा जाता है। आज हिंदुस्तान में लोकतंत्र नहीं है बल्कि 4 लोगों की तानाशाही है।

'संसद में बोलने नहीं दिया जाता'

राहुल ने आगे कहा कि हम महंगाई, बेरोजगारी और समाज को जो बांटा जा रहा है उसका मुद्दा संसद में उठाना चाहते हैं, लेकिन हमें बोलने नहीं दिया जाता। उनका विचार है कि इन मुद्दों को उठाया नहीं जाना चाहिए। विपक्ष कानूनी ढांचा, न्यायिक संरचना, चुनावी संरचना के बल पर लड़ता है। यह सब ढांचे सरकार का समर्थन कर रहे हैं क्योंकि सरकार ने अपने लोग इन संस्थानों में बैठा रखे हैं। हिंदुस्तान का कोई भी संस्थान स्वतंत्र नहीं है, वह आरएसएस के नियंत्रण में है। मेरा काम संघ के विचार का विरोध करना है और मैं इसे करने जा रहा हूं।

मुझ पर हमला करो

राहुल ने कहा 'मैं जितना लोगों की आवाज उठाता हूं, जितना सच बोलता हूं उतना ज्यादा मुझ पर हमला किया जाता है। मैं लोकतंत्र के लिए खड़े होने का अपना काम करता रहूंगा। यह बात समझ लीजिए कि जो धमकाता है वह डरता है।' राहुल ने कहा कि मैं जितना अधिक विरोध करूंगा उतना ही मुझ पर आक्रमण होगा। मैं खुश हूं, मुझ पर हमला करो।

Edited By: Manish Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट