गोरखपुर, जेएनएन। राज्य सभा सांसद व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के विरुद्ध कुशीनगर के कसया थाने में सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने, धर्म के नाम पर नफरत फैलाने सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

विधायक के बेटे ने दर्ज कराया मुकदमा

कुशीनगर के विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी के बेटे दिव्येंदु मणि त्रिपाठी ने बुधवार की देर रात तहरीर देकर कांग्रेस नेता पर कार्रवाई की मांग की थी। तहरीर में कहा गया है कि कांग्रेस नेता ने 17 सितंबर की शाम को एक न्यूज चैनल पर बयान दिया कि लोग भगवा वस्त्र पहन कर मंदिरों में बलात्कार कर रहे हैं। इसके पूर्व एक सितंबर को भी बयान दिया था कि आरएसएस व हिन्दू संगठनों के लोग आइएसआइ से पैसा लेते हैं व मुसलमानों से ज्यादा आंतकवादी घटनाओं में संलिप्त हैं। देश भर में संचालित सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालयों को आंतकी गतिविधियों का केंद्र बताया था। इससे सामाजिक सौहार्द बिगड़ रहा है।

धर्म के आधार पर नफरत फैलाने का आरोप

धर्म के आधार पर उनके द्वारा साजिश के तहत देश में नफरत व घृणा फैलाई जा रही। तहरीर के आधार पर पुलिस ने दिग्विजय सिंह पुत्र बालभद्र सिंह निवासी इन्दौर जनपद इन्दौर मध्यप्रदेश के विरुद्ध अ.सं. 556/19 धारा- 153A/295A/298/505(2) आइपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी विनोद कुमार मिश्र ने कहा कि कांग्रेस नेता के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस