नई दिल्‍ली, एएनआइ। वरिष्ठ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता तरुण विजय ने बुधवार को कहा कि वह अपने ट्विटर हैंडल के 'दुरुपयोग' पर पुलिस शिकायत दर्ज करेंगे। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि उनकी टाइमलाइन से जो पार्टी विरोधी ट्वीट्स किए गए, वो उन्‍होंने नहीं किये थे। इन ट्वीट्स को किसी और ने उनके अकाउंट और पासवर्ड का दुरुपयोग करके किया था।

बता दें कि भाजपा सांसद तरुण विजय का ट्विटर हैंडल बीती रात 'हैक' कर लिया गया था। उनके ट्विटर हैंडल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ट्वीट किये गये। साथ ही राहुल गांधी के पक्ष में ट्वीट किये गये। मामला सामने आने के बाद सभी ट्वीट्स डिलीट कर दिये गये।

तरुण विजय ने ट्विटर पर स्‍पष्‍ट किया कि उन्‍होंने पार्टी विरोधी कोई भी ट्वीट नहीं किया था। उन्‍होंने कहा, 'धन्‍यवाद दोस्‍तों मुझ पर विश्‍वास करने के लिए कि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कोई ट्वीट नहीं किया था। ये तब हुआ जब हम घर शिफ्ट कर रहे थे। मेरे पासवर्ड का दुरुपयोग किया गया। मैंने इसकी पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है। पासवर्ड अब बदल दिया गया है। इस मुश्किल समय में काफी दोस्‍त मेरे साथ खड़े रहे, उनका फिर धन्‍यवाद।'

आगे उन्‍होंने कहा, 'यह एक साजिश के तहत किया गया था। मैं पीएम मोदी और अमित शाह का बेहद सम्‍मान करता हूं। उनके लिए जीता और मरता हूं। मैं पार्टी के काम में दिनरात जुटा रहता हूं। 2019 के लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, ऐसे में पार्टी के खिलाफ इस साजिश को अंजाम दिया गया है।'

बता दें कि तरुण विजय लेखक और पत्रकार भी हैं। 2010 से 2016 तक वह उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद रह चुके हैं। वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखबार पाञ्चजन्य के एडिटर के पद पर भी अपनी सेवा दे चुके हैं।

Posted By: Tilak Raj