नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। अमरनाथ यात्रा रद्द करने से लेकर जम्मू-कश्मीर में जबरदस्त सुरक्षा अलर्ट बढ़ाए जाने से पनपे हालत पर कांग्रेस ने चिंता जाहिर करते हुए केंद्र सरकार से ऐसा कोई कदम नहीं उठाने का आग्रह किया है जिससे सूबे का संकट और गहरा जाए।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में कांग्रेस की कश्मीर कमिटी की हुई बैठक के बाद पार्टी ने केंद्र से जम्मू-कश्मीर को दिए गए सभी संवैधानिक गारंटी प्रावधानों को जारी रखना सुनिश्चित करने का भी अनुरोध किया।

कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर को लेकर जारी दिशा-निर्देशों और फैसलों से सूबे में मची हलचल के मद्देनजर केंद्र सरकार से यह अपील की। मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में पार्टी की कश्मीर कमिटी की हुई विशेष आपात बैठक के बाद कांग्रेस ने बयान जारी कर कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की ओर से अलग-अलग तरीके की रिपोर्ट से सूबे में चिंता और हड़कंप की स्थिति है। कांग्रेस के मुताबिक यह स्थिति गंभीर है और इसको लेकर सरकार के इरादों पर तमाम संदेह के सवाल खड़े हो रहे हैं।

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद की ओर से बैठक के बाद जारी बयान में यह भी कहा गया है कि श्री अमरनाथ यात्रा को खत्म करने, यात्रियों, नागरिकों और पर्यटकों के लिए केंद्र के असाधारण और अभूतपूर्व दिशा-निर्देशों के जारी करने से लोगों में जबरदस्त भय का माहौल पैदा हो गया है।

आजाद के मुताबिक कांग्रेस के इस कश्मीर समूह की बैठक में अनुच्छेद 35 ए और अनुच्छेद-370 को हटाने के केंद्र सरकार के इरादों को लेकर सूबे में व्यापक चिंता और भय पर भी चर्चा हुई। साथ ही इन प्रावधानों को सूबे में जारी रखने के कांग्रेस के रूख को बैठक में दुहराया गया और सरकार से आग्रह किया गया कि संविधान के तहत जम्मू-कश्मीर को दिए गए गारंटी के प्रावधानों को कायम रखा जाए।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप