वडोदरा, एएनआइ। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को पाकिस्‍तान पर करारा हमला बोला। वडोदरा में आयोजित एक कार्यक्रम में विदेश मंत्री एस. जयशंकर (External Affairs Minister S. Jaishankar) ने पाकिस्तान का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा कि जिस तरह भारत सूचना प्रौद्योगिकी (information technology, IT) का विशेषज्ञ है, उसी तरह हमारा पड़ोसी अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद का विशेषज्ञ है। उन्‍होंने चेतावनी दी कि यदि आतंकवाद का इस्‍तेमाल हमारे खिलाफ किया जा रहा है, तो कल यह आपके खिलाफ होगा। 

पाकिस्‍तान इंटरनेशनल टेररिज्‍म का एक्‍सपर्ट

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा- हमारा एक पड़ोसी (Pakistan) है। जैसे हम आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) के विशेषज्ञ हैं तो वह इंटरनेशनल टेररिज्‍म के एक्‍सपर्ट है। वर्षों से यह चल रहा है कि हम इनका सामना कैसे करें। इस मसले पर हमें यह कामयाबी मिली है कि हम दुनिया को समझा पाए हैं कि आतंकवाद को यह नहीं समझें कि यह राजनीति या कूटनीति है। आतंकवाद तो केवल आतंकवाद ही है। आज इसका इस्‍तेमाल हमारे खिलाफ किया जा रहा है, तो कल यह आपके खिलाफ भी होगा।

बदला दुनिया का नजरिया

विदेश मंत्री (External Affairs Minister S. Jaishankar) ने कहा कि दुनिया अब समझ चुकी है कि वाकई यह गंभीर समस्‍या है। आपने देखा होगा कि पहले जो धारणा थी कि आतंकवाद का इस्‍तेमाल कहीं और हो रहा है तो हमें इसका क्‍या परवाह है। आज दुनिया का नजरिया बदला है। भारत इस मसले पर दुनिया को साथ लाने में कामयाब हुआ है। आज आतंकवाद का टूल्‍स के तौर पर इस्‍तेमाल करने वाले मुल्‍कों पर दबाव बढ़ा है। यदि वे कुछ करते भी हैं तो उसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाता है।

आतंकी गतिविधियों में कमी आई

पूर्वोत्तर भारत में आतंकवादी घटनाओं पर विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि हाल के वर्षों में आतंकी गतिविधियों में कमी आई है क्योंकि भारत और बांग्लादेश में सीमा समझौता हुआ है। इस समझौते ने चरमपंथियों को बांग्लादेश में शरण लेने से रोकने का काम किया है। जयशंकर ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री मोदी तेल की बढ़ती कीमतों के बीच वैश्विक दबाव के आगे नहीं झुके और स्‍पष्‍ट किया कि भारत को वह करना चाहिए जो देश के लिए सबसे अच्छा हो। यदि दबाव आता है तो इसका डटकर मुकाबला करें।

यह भी पढ़ें- Ukraine War: खतरनाक मोड़ पर पहुंचा रूस यूक्रेन युद्ध, पोलैंड बांट रहा आयोडीन की गोलियां, क्‍या बन रहे हालात..?

यह भी पढ़ें- Pakistan Politics: कभी भी हो सकती है पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की गिरफ्तारी, अरेस्ट वॉरंट जारी

Edited By: Krishna Bihari Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट