डब्ल्यूडब्ल्यूई सुपरस्टार रोमन रेंस मार्च के बाद से ही रिंग में नहीं दिखाई दिए हैं। उन्होंने रहस्योद्घाटन किया था कि कोरोना महामारी के कारण वह रेसलमेनिया 36 में मैच नहीं लड़ पाएंगे। रोमन रेंस ल्यूकीमिया जैसी गंभीर बीमारी से ग्रसित थे और इस कारण कोरोना उन्हें ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता था। रेंस के आगे प्लान क्या हैं, इस पर दैनिक जागरण के खेल संवाददाता निखिल शर्मा ने रोमन रेंस से खास बातचीत की। पेश हैं प्रमुख अंश :

- क्या कारण है कि आप अभी रिंग में नहीं उतर रहे हैं। भारतीय प्रशंसक कब तक आपको रिंग में दोबारा देख पाएंगे?

- रोमन रेंस ने कहा कि सच कहूं तो मेरा परिवार है। पहले मुझे उनका इस समय पूरी तरह से ख्याल रखना है। मुझे अभी सच में नहीं पता है कि कब तक रिंग में वापसी कर पाऊंगा। जब हालात पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे, तो मैं रिंग में उतरने का फैसला करूंगा। रेंस स्मैकडाउन का हिस्सा हैं, जो सोनी टेन 3 पर प्रसारित होता है। कोविड 19 महामारी की वजह से ही उन्होंने भी रिंग से फिलहाल अपनी दूरी बना ली है। 

- फुटबॉलर से डब्ल्यूडब्ल्यूई पहलवान कैसे बने?

मैं अमेरिकन फुटबॉलर था। मेरे पास वह आक्रमकता थी जो फुटबॉलर में होती है। यह मेरा फैसला था कि मैं डब्ल्यूडब्ल्यूई में जाऊं और फिर मेरा डब्ल्यूडब्ल्यूई का सफर शुरू हुआ।

- आपने कई खिताब जीते, अब आप क्या जीतना चाहते हैं?

- यूनिवर्सल चैंपियनशिप मेरा पहला खिताब था, 2018 में मैंने इसे जीता। मैंने अपने स्वास्थ्य पर काम करना किया। मैं चाहता हूं कि लगातार बेहतर होता जाऊं।

- एक्टिंग आसान काम नहीं है। कैसा अनुभव रहा?

- हां एक्टिंग आसान नहीं है। मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला। मुझे जिम्मेदारी मिली, मैंने उसको बखूबी निभाया।

- कोई सपना जो अभी पूरा नहीं हुआ?

- मैंने अगले स्तर तक आगे बढ़ना चाहता हूं। ग्लोबल ब्रांड बनना चाहता हूं। सबसे बड़ा एंटरनेटनर बनू, मूवीज, होस्टिंग, टेलीविजन शो सब में काम करूं।

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस