नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। टोक्यो ओलिंपिक में भारत अब तक पांच पदक जीत चुका है और खिलाड़ियों पर इनामों की बौछार हो रही है। किसी को सरकारी नौकरी मिली है, तो किसी के लिए करोड़ों रुपये इनाम की घोषणा की गई है। राज्य सरकारों, रेलवे और भारतीय ओलिंपिक संघ (IOC) ने खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करने के लिए इनाम की घोषणा की है। बता दें कि वेटलिफ्टर मीराबाई चानू और रेसलर रवि दहिया ने सिल्वर, तो वहीं बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन और पुरुष हाकी टीम ने कांस्य पदक अपने नाम किया है। ऐसे में आइए जानते हैं देश का नाम रौशन करने वाले खिलाड़ियों को क्या-क्या मिलेगा?

मीराबाई चानू

वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलिंपिक के पदक मुकाबले के पहले ही दिन भारत को सिल्वर मेडल दिलाई। मणिपुर सरकार ने उन्हें 1 करोड़ कैश के साथ-साथ एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस का पद दिया है। रेलवे की तरफ से भी उन्हें दो करोड़ रुपये देने का ऐलान किया गया है। साथ ही उन्हें प्रमोशन भी मिलेगा। मणिपुर सरकार ने ओलिंपिक में भाग लेने वाले राज्य के हर खिलाड़ी को 25 लाख रुपये देने का एलान किया है।

पीवी सिंधू

ओलिंपिक खेलों में दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी पीवी सिंधू को आंध्र प्रदेश सरकार ने राज्य के स्पोर्ट्स पालिसी के तहत 30 लाख रुपये कैश देने की घोषणा की। भारतीय ओलंपिक संघ से उन्हें 25 लाख रुपये इनाम स्वरूप मिलेगा।

रवि दहिया

ओलिंपिक में हरियाणा के पहलवान सोनीपत जिले के रवि दहिया ने रजत जीता है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश की खेल नीति के अनुसार रवि को चार करोड़ रुपये की राशि, क्लास वन नौकरी और रियायती दर पर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण का एक प्लाट देने की घोषणा की। रवि के गांव नाहरी में आधुनिक सुविधाओं से लैस इंडोर कुश्ती स्टेडियम बनाने की घोषणा भी मुख्यमंत्री ने की।

हाकी

भारतीय पुरुष हाकी टीम ने ओलिंपिक में 41 साल बाद पदक जीता है। हरियाणा सरकार राज्य के प्रत्येक हाकी खिलाड़ी को 2.5 करोड़ देगी। उन्हें खेल विभाग में नौकरी और रियायती दर पर प्लाट दिए जाएंगे। मध्य प्रदेश सरकार विवेक व नीलाकांता को और उत्तर प्रदेश सरकार ललित को एक-एक करोड़ रुपये देगी। पंजाब सरकार अपने राज्य के प्रत्येक खिलाड़ी को एक करोड़ देगी। एसजीपीसी हाकी टीम को एक करोड़ रुपये देने के साथ पंजाब के खिलाड़ियों को पांच-पांच लाख रुपये देगी।

पदक जीतने वाले एथिलिटों के कोचों को नकद पुरस्कार

भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने टोक्यो ओलिंपिक में एथलीटों के साथ जाने और उन्हें प्रशिक्षण दे रहे कोचों के लिए नकद पुरस्कार की घोषणा ही। स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ी के कोच को 12.5 लाख रुपये, रजत जीतने वाले एथलिटों के कोचों को 10 लाख और कांस्य पदक जीतने वाले एथलिटों के कोचों को 7.5 लाख रुपये मिलेंगे।

आइओए खिलाड़ियों को देगा कैश प्राइज

भारतीय ओलंपिक संघ ने टोक्यो ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेताओं को 75 लाख, रजत पदक विजेताओं को 40 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं को 25 लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है। अबतक पांच मेडल विजेताओं को इसी आधार पर इनामी राशि दी जाएगी।

रेलवे ने भी किया एलान

रेलवे ने भी टोक्यो ओलिंपिक में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों और उनके कोचों को लिए बड़ा एलान किया है। गोल्ड जीतने वाले खिलाड़ियों को 3 करोड़ और उनके कोचों को 25 रुपये देने का एलान किया है। इसके अलावा सिल्वर जीतने वाले खिलाड़ियों को 2 करोड़ और उऩके कोच को 20 लाख और कांस्य जीतने वाले खिलाड़ियों को 1 करोड़ और कोच को 15 लाख रुपये देने का एलान किया है। इसके अलावा ओलिंपिक में हिसासा लेने वाले खिलाड़ियों को 7.5 लाख रुपये मिलेंगे।

Edited By: Tanisk