प्योंगचांग, आइएएनएस। शांति के संदेश और 2022 में बीजिंग में मिलने के वायदे के साथ 23वें शीतकालीन ओलंपिक का रविवार को समापन हो गया। सभी प्रतिस्पर्धाओं के खत्म होने के बाद रंगा-रंग समापन समारोह ने सबको मंत्र-मुग्ध कर दिया। इस दौरान कोरिया की पारंपरिक परिवेश के साथ आधुनिक सौंदर्यकला की भी अद्भुत झलक देखने को मिली। कोरियाई कलाकारों ने इलेक्ट्रोनिक म्यूजिक डांस से समा बांध दिया। दक्षिण कोरिया के डीजे रैडेन और नीदरलैंड्स के स्टार मार्टिन गारिक्स के परफॉर्मेस ने सबको थिरकने पर मजबूर कर दिया।

समापन समारोह के दौरान दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जाई-इन के अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। पहली बार शीतकालीन ओलंपिक का आयोजन करने वाले दक्षिण कोरिया के शहर प्योंगचांग में रिकॉर्ड 92 देशों के 2,920 एथलीटों ने भाग लिया।

नॉर्वे की बादशाहत

सोचि में दूसरे स्थान पर रहने वाले नॉर्वे ने प्योंगचांग शीतकालीन ओलंपिक में सबसे ज्यादा 39 पदक जीते जिसमें 14 स्वर्ण और इतने ही रजत के अलावा 11 कांस्य पदक शामिल थे। उत्तर कोरिया के 22 एथलीटों ने शिरकत की लेकिन उसे कोई पदक हासिल नहीं हो सका।

 

आखिरी दिन नॉर्वे, जर्मनी व स्वीडन को स्वर्ण

आयोजन के आखिरी दिन नॉर्वे को महिलाओं की 30 किलोमीटर क्रॉस कंट्री स्कीइंग में मारित बोज्र्जेन ने सुनहरी सफलता दिलाई और अपने देश को अंक तालिका में शीर्ष पर बनाए रखा। 37 साल की बोज्र्जेन शीतकालीन ओलंपिक इतिहास की सबसे सफल महिला एथलीट हैं। बॉबस्लेड पुरुष टीम फाइनल में जर्मनी ने स्वर्ण पदक हासिल किया जबकि कर्लिग में स्वीडन की महिला टीम ने सुनहरी सफलता के साथ अपने ओलंपिक अभियान की समाप्ति की।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप