जासं, राउरकेला : सुंदरगढ़ पुलिस बराकर एपीआर के हवलदार दीपक सूना का 27 वर्षीय पुत्र जयदेव सूना 8 अक्टूबर से लापता है। खोजबीन के बाद भी पता नहीं चलने पर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं थी पर इलाज के बाद वह सामान्य हो गया था।

सुंदरगढ़ टाउन थाना अंतर्गत पणसपाड़ा में दीपक सूना परिवार के साथ रहता था। साल भर पहले उसकी मानसिक हालत अचानक खराब हो गई थी। इलाज के बाद वह ठीक हो गया था एवं पढ़ाई भी कर रहा था। 8 अक्टूबर की शाम को वह घर से निकला और नहीं लौटा। इसके बाद परिवार के लोगों के द्वारा उसकी शहर एवं आसपास तथा रिश्तेदारों के पास तलाश की गई पर कहीं पता नहीं चलने पर मां आरती सूना ने टाउन थाना में इसकी शिकायत दर्ज कराई है। बेटी से दुष्कर्म के आरोप में पिता गया जेल : बेटी के साथ दुष्कर्म के मामले में आरोपित पिता को प्लांट साइट थाना की पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेजा गया है। आरोपित थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में फिजियोथेरेपिस्ट था। 14 साल की बेटी ने दुष्कर्म के बारे में अपनी मां को जानकारी दी थी। मां के विरोध करने पर आरोपित पिता उससे मारपीट करता था। परेशान होकर वह अपनी एक सहेली के घर जाकर रहने लगी थी। इसकी जानकारी मिलने के बाद दिशा चाइल्डलाइन ने प्लांट साइट थाने में शिकायत की थी। इसके आधार पर आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

आरोपित निजी अस्पातल में अटेंडर के बाद फिजियोथेरेपिस्ट का काम करता था। नशे की हालत में वह अप्रैल महीने से अपनी 14 साल की बेटी से दुष्कर्म करता आ रहा था। इस संबंध में उसने अपनी मां को भी जानकारी दी। जब मां बेटी मिलकर इसका विरोध करने लगे तब उनके साथ भी आरोपित मारपीट करने लगा। लोक लाज के चलते उसने किसी को कुछ नहीं बताया और सेक्टर-21 में अपनी एक सहेली के घर रहने लगी तथा दिशा चाइल्ड लाइन को इसकी जानकारी दी। जानकारी मिलने पर दिशा चाइल्ड लाइन की टीम सेक्टर-21 पहुंचकर उसे अपने साथ ले गई तथा उसका स्वास्थ्य परीक्षण कराया। साथ ही प्लांट साइट थाने में भी इसकी लिखित शिकायत की। इसके आधार पर पुलिस द्वारा आरोपित पिता को गिरफ्तार किया गया एवं कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

Edited By: Jagran