संबलपुर, जेएनएन। वीर सुरेंद्र साय इंस्टीटयूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च संस्थान, बुर्ला के न्यूरो सर्जरी वार्ड में रविवार को डॉक्टर्स और एक मरीज के रिश्तेदारों के बीच मारपीट हो गई। मामला इतना बढ़ गया कि अस्पताल परिसर में एक प्लाटून पुलिस बल तैनात करना पड़ा। बुर्ला-हीराकुद एसडीपीओ और क्षेत्रीय थानेदार विभूति भूषण भोई घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित करने के साथ मरीज के भतीजे को हिरासत में लिया।

झारसुगुडा जिला के एक मरीज का इलाज बुर्ला स्थित एक नर्सिंगहोम में चल रहा है। इसी नर्सिंगहोम में बुर्ला अस्पताल का एक डॉक्टर भी पार्टटाइम करता है। खबर है की नर्सिंगहोम में भर्ती मरीज का पुत्र मुकेश बेहरा और भतीजा झसकेतन राउत रविवार को बुर्ला मेडिकल के  न्यूरो सर्जरी वार्ड पहुंचे और नर्सिंगहोम में मरीज का इलाज करने वाले डॉक्टर से उसकी हालत और उसे रिलीव करने को लेकर पूछताछ करने लगे। इसी बात को लेकर उनका झगड़ा सहायक प्रो. आचार्य सूर्यकांत पाटजोशी के साथ हो गया। प्रो. पाटजोशी का शोर सुनकर पोस्ट ग्रेजुएट डॉक्टर्स समेत अन्य डॉक्टर मौके पर पहुंचे। इन्हें देख मुकेश और झसकेतन  भागने की कोशिश की। लेकिन डॉक्टरों ने झसकेतन को पकड़ लिया और पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया। प्रो. पाटजोशी के अनुसार दोनों रिश्तेदारों ने न्यूरो सर्जरी विभाग के ऑपरेशन थिएटर में हल्ला करने समेत उनके साथ झगड़ा कर रहे थे। पुलिस को झसकेतन ने बताया कि वह अपने मरीज को लेकर बात करने आये थे। तभी प्रो. पाटजोशी

ने उनके साथ दुव्र्यवहार किया और बाद में शोर मचाकर साथियों को बुला लिया।

  साढ़े चार लाख कर्मियों व पेंशनरों को इस बार नहीं मिला पाएगा दिवाली पर ये लाभ

शिक्षक की पिटायी से छात्र गंभीर रूप से घायल

लहुणीपाड़ा थाना अंतर्गत खुटगांव मधुसूदन शिक्षा निवास स्कूल में प्रधानाध्यापक ने एक छात्र की पिटायी कर दी। इसमें छात्र को गंभीर चोट लगी है तथा अस्पताल में उसका इलाज कराना पड़ा है। गणित में कुछ गलती के कारण उसे यह सजा मिलने की बात कही जा रही है। सरकार की ओर से स्कूलों को उत्पीड़न मुक्त किया गया है इसके बावजूद स्कूलों में छात्रों के साथ मारपीट की घटनाएं  हो रही हैं। मधुसूदन शिक्षा निवास में प्रधानाध्यापक ने गणित में गलती करने पर नर्सरी कक्षा के एक बच्चे की जमकर पिटायी कर दी। इससे उसके पीठ में निशान पड़ गये। घर पहुंचकर उसने अपने माता पिता को यह दिखाया। इसके बाद मामला सामने आया। गांव के लोग भी इसका विरोध कर रहे हैं एवं प्रधानाध्यापक के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

 ओडिशा की पहली ऐसी जेल जिसे मिला ये प्रमाणपत्र, कैदियों की मेहनत रंग लायी

मंदिर में माथा टेक प्रसाद खाया, फिर कर डाली ऐसी हरकत; सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप