जागरा संवाददाता, राउरकेला : हाईस्कूल के बाद प्राथमिक स्कूलों के विकास के नाम पर लूट शुरू हो गई है। बिना टेंडर के लाखों का काम ठेका संस्थाओं को दिया जा रहा है। घटिया स्तर के काम पर विभाग की ओर से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिले के 17 ब्लॉक, राउरकेला नगर निगम व सुंदरगढ़ नगरपालिका क्षेत्र में 120 स्कूलों का भवन निर्माण कराया जा रहा है। जिला खनिज कोष एवं ओडिशा मिनिरल वियरिग एरियाज डेवलपमेंट कार्पोरेशन कोष से इसमें करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं। नुआगांव ब्लॉक में 21 स्कूलों का काम चल रहा है।

जिला खनिज कोष तथा ओडिशा मिनिरल वियरिग एरियाज डेवलपमेंट कार्पोरेशन कोष से करोड़ों का काम कराया जा रहा है। विभागीय अधिकारी व ठेकेदार की सांठगांठ के चलते निम्न स्तर का काम होने की शिकायत की जा रही है। नुआगांव ब्लॉक में समग्र शिक्षा अभियान के अधीन कुल 21 स्कूल के निर्माण का काम कराया जा रहा है। इसमें से 15 का काम चल रहा है। बारीलेपटा सरकारी उच्च प्राथमिक स्कूल, बडेगा सरकारी हाईस्कूल में घटिया काम होने की शिकायत की गई है। दो स्कूल भवन पर 1.58 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। बारीलेपटा स्कूल में 78.54 लाख एवं बगडेगा में 76.13 लाख रुपये लगे हैं। ठेका संस्था द्वारा काम दो तीन ठेकेदारों के बीच बांटा गया है। स्थानीय लोगों ने घटिया स्तर की सीमेंट एवं ईट का उपयोग करने की शिकायत की। इसके बाद उसे वापस करने के लिए बाध्य हुए। सीमावर्ती क्षेत्र में स्कूल भवन निर्माण का अधिकतर काम बाहर के ठेकेदार कर रहे हैं। नुआगांव ब्लॉक के टिस्को, गोपुर, झरियाटोली, कोकेरामा, मेनमेना, बालीमुंडा, झारबेड़ा, पणुडहा, कर्कटनासा, कुंडरा प्राथमिक स्कूलों का काम घटिया स्तर पर होने की शिकायत लोगों के द्वारा की गई है।

:::::::::

कोट-

बगडेगा स्कूल भवन निर्माण के लिए घटिया स्तर की ईट आने की शिकायत मिली थी। इसके बाद ठेका संस्था को उस तरह के ईट का इस्तेमाल नहीं करने की चेतावनी दी गई थी। अधिकतर ठेका संस्था दूसरों से काम करा रहे हैं। काम ठीक से हो इसके लिए खुद नगर रख रहे हैं।

- विजय कुमार भोई, कनीय अभियंता, नुआगांव।

Edited By: Jagran