राउरकेला, जागरण संवाददाता। सड़क न होने के कारण एंबुलेंस गांव तक नहीं पहुंच सकी। इस कारण लहुनीपाड़ा अंचल की एक गर्भवती महिला को उसके परिजन खटिया में लेकर तीन किमी दूर एंबुलेंस तक ले गए। राज्य सरकार स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए कई कदम उठाने का दावा कर रही है।

खासकर गर्भवती महिलाओं और बच्चों के लिए। मरीजों को समय पर अस्पताल पहुंचाने के लिए 108 नंबर एंबुलेंस की भी व्यवस्था की गई है। सूचना मिलते ही एंबुलेंस समय पर निकल रही है। लेकिन परिवहन की सुविधा नहीं होने के कारण एंबुलेंस मरीजों तक नहीं पहुंच पाती है। ऐसी ही एक घटना सुंदरगढ़ जिले के लहुनीपाड़ा प्रखंड अंतर्गत शंखपोश पंचायत से सामने आयी है। यहां रामेश्वर मुंडा की पत्नी लक्ष्मी को प्रसव पीड़ा होने पर 108 एंबुलेंस को काल किया गया।

जब एंबुलेंस आई तो सड़क नहीं होने के कारण गांव तक नहीं पहुंच पाई। रास्ता न मिलने पर लक्ष्मी के पति ने ग्रामीणों को बुलाया और तीन किलोमीटर तक खाट पर लेकर उसे एंबुलेंस तक ले गए। हालत नाजुक होने पर उसे राउरकेला लाया गया, यहां उसने मृत बच्चे को जन्म दिया। जिला खनन संस्थान सुंदरगढ़ अरबों रुपये खर्च कर रहा है। इस पैसे का उपयोग जिले के दूरदराज के क्षेत्रों में परिवहन की सुविधा के लिए करने की मांग की जा रही है।

कोइड़ा में पुल से 50 फीट नीचे गिरा हाइवा, मध्य प्रदेश के चालक व खलासी की मौत

सुंदरगढ़ जिले के कोइडा थाना क्षेत्र के कालटा पुलिस चौकी क्षेत्र में अनियंत्रित हाइवा नवनिर्मित पुल से 50 फीट नीचे गिरने से चालक और खलासी की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर कालटा चौकी प्रभारी भगवान साहू मौके पर पहुंचे और गैस कटर की सहायता से वाहन को काट कर दोनों के शव को बाहर निकाला।

मृतकों की पहचान मध्य प्रदेश के सीधी जिला के बाहरी थाना क्षेत्र निवासी इंद्र बहादुर सिंह व उमेश प्रसाद के रूप में हुई है। सड़क जर्जर होने तथा पुल का काम चलने के कारण इस क्षेत्र में हादसे हो रहे हैं। कालटा पुलिस चौकी क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग-215 पर तेज रफ्तार हाइवा के चालक ने संतुलन खो दिया।

अनियंत्रित हाइवा पुल के ऊपर से सीधे करीब 50 फीट नीचे जा गिरा जिसमें उसका इंजन वाला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। इससे चालक एवं खलासी दब गए एवं मौके पर ही उनकी मौत हो गई। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची तथा गैस कटर की सहायता से केबिन को काटकर दोनों के शव को बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए लहुणीपाड़ा सरकारी अस्पताल भेजा। सड़क निर्माण का काम चलने के कारण खोदाई का कार्य जारी है। इस कारण यह हादसा होने की बात कही जा रही है।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट