Move to Jagran APP

मुर्शिदाबाद के चार नाबालिग राउरकेला रेलवे स्टेशन पर पकड़े गए

सुंदरगढ़ जिले में विभिन्न विकास कार्य में नियोजित करने के लिए पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से लाए गए नाबालिगों को रेलवे स्टेशन पर कोरोना जांच के दौरान सिविल डिफेंस व आरपीएफ की टीम ने पकड़ लिया तथा चाइल्ड लाइन के हवाले किया है।

By JagranEdited By: Tue, 27 Jul 2021 09:47 PM (IST)
मुर्शिदाबाद के चार नाबालिग राउरकेला रेलवे स्टेशन पर पकड़े गए
मुर्शिदाबाद के चार नाबालिग राउरकेला रेलवे स्टेशन पर पकड़े गए

जागरण संवाददाता, राउरकेला : सुंदरगढ़ जिले में विभिन्न विकास कार्य में नियोजित करने के लिए पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से लाए गए नाबालिगों को रेलवे स्टेशन पर कोरोना जांच के दौरान सिविल डिफेंस व आरपीएफ की टीम ने पकड़ लिया तथा चाइल्ड लाइन के हवाले किया है। दलाल के द्वारा लाए गए 24 लोगों में से सात के नाबालिग होने का पता चला है। दलाल को भी गिरफ्तार कर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

मंगलवार को इस्पात एक्सप्रेस के राउरकेला पहुंचने के बाद सिविल डिफेंस के शुभेन्दु पंडा, अजीत प्रसाद व परीक्षित बेहरा ने इन लोगों को कोरोना जांच कराने के लिए कहा। इस पर दलाल के इशारे पर ये लोग इधर उधर भागने लगे। यह देख वहां तैनात आरपीएफ कर्मी धनंजय कर, एन त्रिपाठी, गौरव कुमार व बबीता ने सक्रियता दिखाते हुए दलाल इशा मोहम्मद को पकड़ लिया। उसके पास से 24 लोगों का टिकट मिला जो हावड़ा से चक्रधरपुर तक का था। इसमें सात लोग नाबालिग थे। पूछताछ करने पर उसने बताया कि 24 लोगों में से 17 लोग ही आए हैं। वह कभी उन्हें रिलायंस में तो कभी गेल इंडिया में काम दिलाने की बात कर रहा था। इस पर आरपीएफ की टीम ने उसे हिरासत में ले लिया। इसके बाद आरपीएफ की टीम ने पीछा कर चार नाबालिगों को भी पकड़ लिया और जीआरपी के हवाले किया। इसके बाद जीआरपी ने चारों नाबालिगों को चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया। साथ ही दलाल को गिरफ्तार मामले की जांच कर रही है। उल्लेखनीय है कि दूसरे राज्यों से नाबालिगों को लाकर सड़क निर्माण तथा अन्य विकास कार्यो में लगाकर दलाल कमीशन ले रहे हैं। इसकी पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।