भुवनेश्वर, जेएनएन। श्रीक्षेत्र धाम पुरी में समुद्र धीरे-धीरे बेलाभूमि (समुद्री किनारा) को अपनी गर्त में लेता जा रहा है। यह सिलसिला लगातार जारी रहने से शहर के लोगों के साथ प्रशासन की भी नींद उड़ गई है। मंगलवार को एक बार फिर सात से आठ फीट ऊंचा समुद्री ज्वारा उठा और बेलाभूमि की सुनहरी रेत को अपनी गर्त में समा लिया। धीर-धीरे जिस प्रकार से समुद्र स्वर्गद्वार के समीप पहुंच रहा है, लोगों में भय बढ़ता जा रहा है।

इस घटना के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने घटनास्थल पहुंचकर स्थिति का मुआयना किया है। इसके अलावा बेलाभूमि में बार-बार उत्पन्न हो रही इस गंभीर स्थिति का अनुध्यान करने के लिए नई दिल्ली से एक विशेषज्ञ दल भी पुरी पहुंचा हुआ है। घटनाक्रम के अनुसार, सात से आठ फीट उठे समुद्री ज्वार के चलते कुछ दुकाने समुद्र के गर्त में चली गई हैं। बताया जाता है कि करीब 40 फीट समुद्र आगे बढ़ गया है, जिससे 500 मीटर बेलाभूमि को अपने गर्भ में धारण कर लिया है। यह स्थिति स्वर्गद्वार के पास की है। अन्य जगहों की तुलना में स्वर्गद्वार के पास बेलाभूमि ज्यादा प्रभावित हुई है।