Move to Jagran APP

ओडिशा: दिन में विज्ञान पढ़ाता और रात में नकली शराब बनाता! आरोपी शिक्षक को आबकारी विभाग की टीम ने किया गिरफ्तार

Spurious Liquor Factory In Sambalpur नकली विदेशी शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश कर आबकारी विभाग ने इस मामले में गिरफ्तार एक आरोपित सरोज बेहेरा के बारे में नया खुलासा किया है। संबलपुर स्थित उत्तरांचल आबकारी मंडल के उपायुक्त राजेंद्र भोतरा ने बताया है कि गिरफ्तार आरोपित सरोज विज्ञान में स्नातक है।

By Jagran NewsEdited By: Prateek JainPublished: Sun, 26 Mar 2023 11:01 PM (IST)Updated: Sun, 26 Mar 2023 11:01 PM (IST)
फोटो: आबकारी कार्यालय में डेमो दिखाता सरोज बेहेरा

संबलपुर/भुवनेश्‍वर, जागरण टीम: नकली विदेशी शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश कर आबकारी विभाग ने इस मामले में अबतक गिरफ्तार एक आरोपित सरोज बेहेरा के बारे में नया खुलासा किया है।

संबलपुर स्थित उत्तरांचल आबकारी मंडल के उपायुक्त राजेंद्र भोतरा ने बताया है कि गिरफ्तार आरोपित सरोज विज्ञान में स्नातक है और अपने गांव सासन थाना अंतर्गत रानीखिड़ा में बारहवीं के विज्ञान संकाय के छात्र-छात्राओं को ट्यूशन भी पढ़ता था। उसके ट्यूशन क्लास में आठ विद्यार्थी विज्ञान पढ़ने आते थे।

उधर, नकली विदेशी शराब कांड में गिरफ्तार सरोज बेहेरा ने अपनी सफाई में बताया है कि उसने अपने मकान का एक हिस्सा संबलपुर के खेतराजपुर इलाके में रहने वाले किसी जसवीर सिंह कोहली उर्फ गोल्डी को सात आठ महीने पहले किराए पर दिया था और नकली विदेशी शराब कारोबार में उसका कोई हाथ नहीं है।

एक तरफ सरोज खुद को इस कारोबार में निर्दोष बता रहा है, लेकिन जब आबकारी कार्यालय में उसे इस कारोबार के बारे में अधिक पूछताछ की गई तब उसने मीडिया के सामने नकली विदेशी शराब की बॉटलिंग का डेमो कर दिखाया।

ऐसे में आबकारी अधिकारियों का मानना है कि इस अवैध कारोबार में सरोज पूरी तरह निर्दोष नहीं है। वह शिक्षित है और उसे नकली विदेशी शराब कारोबार के बारे में पूरी जानकारी होने के बावजूद उसने इस बारे में आबकारी या पुलिस को कुछ नहीं बताया था। अब, जब वह पकड़ा गया है तब खुद को निर्दोष बताने की कोशिश कर रहा है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.