पटना, जागरण संवाददाता। Farmer's Protest in Bihar Against New Agriculture Act: नये कृषि कानून के खिलाफ बिहार की राजधानी पटना (Patna) में आज किसान संगठनों का राजभवन मार्च (Rajbhawan March) हो रहा है। इसके लिए काफी तादाद में विभिन्‍न संगठनों से जुड़े आंदोलनकारी पटना में इकट्ठा हुए हैं। इस बीच आंदोलनकारियों को राजभवन की तरफ बढ़ने से रोकने के क्रम में पुलिस को लाठी चार्ज का सहारा लेना पड़ा है।

गांधी मैदान से निकला जुलूस, डाकबंगला चौराहे पर हुआ पुलिस से टकराव

कृषि बिल के विरोध में राज्य के विभिन्न कोने से आए किसानों ने पटना की सड़कों पर मंगलवार को राजभवन मार्च किया। किसानों का मार्च गांधी मैदान से निकलकर राजभवन की ओर से बढ़ने लगा। मार्च अभी डाक बंगला चौराहा पर पहुंचा ही था कि पुलिस ने आंदोलनकारियों को आगे बढ़ने से रोक दिया। किसान आगे राजभवन की ओर जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने किसी को आगे बढ़ने की इजाजत नहीं दी।

भाग रहे आंदोलनकारियों को पुलिस ने दौड़ाकर पीटा

डाकबंगला चौराहे पर रोके जाने के बाद किसानों और पुलिस के धक्का-मुक्की शुरू हो गई। जब भीड़ अनियंत्रित होने लगी तो पुलिस ने लाठी चार्ज कर कंट्रोल करने की कोशिश की। पुलिस द्वारा लाठीचार्ज करने के बाद भगदड़ मच गई। भाग रहे किसानों को भी पुलिस ने दौड़ाकर पीटा। कई किसानों ने गलियों में छिपकर जान बचाई। कई महिला किसान सड़कों पर गिर गईं, जिससे उन्हें काफी चोट पहुंची। उन्हें पीएमसीएच भी भेजा गया।

नये कृषि कानून को रद करने की मांग कर रहे थे किसान

किसान बार-बार कृषि बिल रद करने की मांग कर रहे थे। डाक बंगला चौराहा पर काफी देर तक हंगामा होने के बाद आसपास के इलाकों में जाम लग गया। जाम के कारण गांधी मैदान से लोगों को आगे बढऩा मुश्किल हो गया। जमाल रोड, एक्जीविशन रोड, सहित कई सड़कों पर जाम लगने से राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप