रांची (जासं) । रांची के अपर बाजार के रंगरेज गली स्थित शिव मंदिर में सुबह अज्ञात व्यक्ति द्वारा शिवलिंग तोड़े जाने के बाद लोगों में काफी आक्रोश है। अब भी मंदिर के पास लोगों की भीड़ जुटी हुई है। वहीं, पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। लोगों के आक्रोश को देखते हुए फिलहाल एहतियातन ब़डी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। साथ ही सिटी एसपी सौरभ खुद मौके पर डटे हुए हैं।

यह घटना सुबह 6.30  से सात बजे के बीच की बताई जा रही है। सुबह मंदिर के पुजारी पूजा करने के बाद निकले। इसके कुछ देर बाद लगभग आठ बजे किसी ने देखा कि शिवलिंग टूटा हुआ है। शिवलिंग को टूटा देख लोग जुटने लगे और देखते ही देखते हंगामा हो गया।

इसके बाद जैसे ही कोतवाली पुलिस को सूचना मिली। पुलिस ने पहुंचते ही छानबीन शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस ने मंदिर के बगल वाले दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज चेक किया तो पाया कि सुबह 6.30 से 7 बजे के बीच मंदिर में एक लड़का आया और उसने पत्थर चलाया। बताया गया कि युवक देखने में मानसिक रूप से विक्षिप्त या नशे में धुत लग रहा था।

 

इसके बाद सांसद संजय सेठ, विधायक सीपी सिंह पहुंचे। इसके बाद जैसे ही बाहर लोगों की इसकी सूचना मिले। विभिन्न हिंदू संगठनों के लोग रंगरेज गली पहुंचने लगे। इसके बाद जमकर हंगामा हुआ। कुछ ने जहां विरोध में स्वेच्छा से अपनी दुकान बंद कर दी। वहीं आक्रोशित लोगों ने जबरन कुछ दुकानें बंद कराई।

24 घंटे में दोषियों को गिरफ्तार करे प्रशासन : संजय सेठ

रांची के सांसद संजय सेठ ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्व रांची की सामाजिक समरसता को बिगाड़ना चाहते हैं। ऐसे लोगों के मनसूबे को कभी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। सांसद सेठ ने प्रशासन से 24 घंटे के अंदर CCTV फुटेज की जांच कर इस कृत्‍य में शामिल लोगों की पहचान कर अविलंब गिरफ्तार करने की मांग की है।

साजिश के तहत हिंदुओं की आस्था के साथ खिलवाड़श्री महावीर मंडल डोरंडा केंद्रीय समिति के अध्यक्ष संजय पोद्दार ने अपर बाजार के रंगरेज गली में शिव मंदिर के शिवलिंग को असामाजिक तत्वों द्वारा तोड़े जाने की कड़े शब्दों में निंदा की है। संजय पोद्दार ने कहा कि इस तरह की घटना को अंजाम देकर आस्था पर चोट पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है, जो किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। सरकार और प्रशासन को इस पर गंभीरतापूर्वक ध्यान देने की आवश्यकता है। एक साजिश के तहत पूरे देश में हिंदू भावनाओं को भड़काने का काम किया जा रहा है। यह सामाजिक समरसता के लिए ठीक नहीं है। कहा कि मंडल प्रशासन से मांग करती है कि 24 घंटे में ऐसे लोगों को चिन्हित कर गिरफ्तार करें, अन्यथा मंडल इसका पुरजोर विरोध करेगी।

Edited By: Vikram Giri