नई दिल्ली, जेएनएन। पूरा देश आज देशभक्ति में लीन है और हो भी क्यों ना क्यों आज 26 जनवरी 2021 है। और प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी देश में गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। इस खास दिन कोरोना के चलते कई बदलाव भी किए गए हैं। प्रत्येक वर्ष की भांति इस साल भी परेड निकाली जाएगी। इस 72वें  गणतंत्र पर भारतीय वायुसेना की फाइटर पायलट भावना कांत पहली बार शामिल हो रही हैं। पायलट दल में शामिल की गई वह तीसरी महिला हैं। इस साल निकाले जाने वाली परेड का वह हिस्सा बनेंगी, जिसका थीम 'मेक इन इंडिया' है।

बिहार की रहने वाली भावना को मिल चुका है नारी शक्ति पुरस्कार

बिहार के दरंभगा जिले के घनशयामपुर प्रखंड के बऊर गांव की रहने वाली भावना कांत काफी खुश हैं। उनके पिता इंजीनियर हैं, जो कि रिफाइनरी टाउनशिप में कार्य करते हैं। अगर भावना की पढ़ाई की बात करें तो उन्होंने बरौनी रिफाइरी डीएवी पब्लिक स्कूल से की है। आगे की पढ़ाई के लिए वह बेंगलुरू चली गई। जहां पर उन्होंने बीएमएस कॉलेज से इंजीनियरिंग की। वर्ष 1992 को को भावना का जन्म हुआ। इस वक्त उनकी आयु 28 साल की है। उन्हें नारी शक्ति पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो पिछले वर्ष ही उन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा इश पुरस्कार से नवाजा गया था। 

वर्तमान में राजस्थान के एयरबेस में तैनात हैं भावना

गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होकर महिला फाइटर पायलट भावना कांत इतिहास रचने को तैयार हैं। वह वर्तमान में राजस्थान एयरबेस में तैनात हैं और मिग -21 बाइसन लड़ाकू विमान उड़ाती हैं जो भारतीय वायु सेना (IAF) की झांकी का हिस्सा होगा। भारतीय वायुसेना के फाइटर पायलट दल में शामिल तीन महिलाओं में से एक हैं। वह अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह के साथ 2016 में वायुसेना में शामिल हुईं। बता दें कि इस साल गणतंत्र दिवस पर भारतीय वायुसेना, एलसीए तेजस, लाइट कॉमबैट हेलिकॉप्टर, रोहिणी राडार, आकाश मिसाइल और सुखोई 30 एमकेआई का प्रदर्शन करेगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप