नई दिल्ली। आपको बताया जाए कि किसी विकसित देश में ऐसा कानून है कि आप रात के दस बजे के बाद फ्लश नहीं कर सकते हैं या ऐसा की फुटपाथ पर चलते हुए आप च्युइंगम नही खा सकते हैं तो आपको कैसा लगेगा?

हर देश के अपने नियम कानून होते हैं। उन्हें लागू करने के अपने अपने सामाजिक कारण भी होते हैं। क्योंकि आप इसे अपने देश की तुलना में देख सुन रहे होते हैं इसलिए ये आपको बहुत ही अजीबोगरीब लग सकते हैं। कारण कुछ भी हो ये कानून आपको ये सिखाते हैं कि कोई देश अपने सामाजिक व्यवस्था को लेकर कितना समर्पित हो सकता है। हम आपको ऐसे ही कुछ अजीब कानूनों के बारे में आपको यहां बता रहे हैं। 

ऐसे कानून जिन्हें जानकर आप हो जाएंगे हैरान

जर्मनी में ऐसा कानून है कि अगर गाड़ी चलाते हुए आपकी गाड़ी में ईंधन खत्म हो जाता है तो आपको फाइन भरना पड़ सकता है। इस तरह से इटली के वेनिस में कबूतरों को दाना डालने पर आप पर जुर्माना लगाया जा सकता है। वहीं, ग्रीस के एक्रोपोलिस शहर में आप शार्प हील्स वाले जूते पहनकर नहीं जा सकते हैं।

मजाकिया कानून

कुछ देशों में मजाकिया कानून हैं जिनके बारे में जानकर आपको हैरानी होगी। किसी देश में यह कानून है कि पत्नी का जन्मदिन भूलने पर जेल की सजा हो सकती है तो वहीं किसी देश में शरीर का वजन ज्यादा होना गैरकानूनी है।

दुनिया विभिन्न संस्कृतियों और परंपराओं से भरी हुई है और प्रत्येक देश के अपने नियम और रीति-रिवाज हैं। नई जगह की संस्कृति मजेदार और दिलचस्प हो सकती है लेकिन कभी-कभी कुछ चीजें बहुत अजीब हो सकती हैं।

आइए जानते हैं कुछ अजीब कानून:

स्विट्जरलैंड: रात में टॉयलेट फ्लश करना गैरकानूनी

कानून: स्विट्जरलैंड में रात को 10 बजे के बाद टॉयलेट फ्लश करना गैरकानूनी है।

कारण: सरकार का मनना है कि इससे ध्वनि प्रदूषण बढ़ता है। इस कानून के चलते लोगों की स्थिति कभी-कभी विचित्र हो जाती है।

उत्तरी कोरिया: नीली जींस पर प्रतिबंध

कानून: किम जोंग अपने देश में अजीबोगरीब कानून बनाने के लिए भी मशहूर है। उत्तर कोरिया में नीले रंग की जींस पर रोक है।

कारण: इसके पीछे का कारण माना जाता है कि पश्चिमी संस्कृति के प्रभाव से बचाने के लिए उत्तरी कोरिया में इसे प्रतिबंधित किया गया है।

श्रीलंका: बुद्ध के साथ सेल्फी लेना गैरकानूनी

कानून: श्रीलंका में भगवान बुद्ध की प्रतिमाओं की ओर पीठ करके सेल्फी लेना अपमानजनक माना जाता है। इसके अलावा बौद्ध प्रतिमाओं और कलाकृतियों के साथ दुर्व्यवहार भी पूरी तरह से प्रतिबंधित है।

कारण: अगर आप फोटो लेते हैं तो इसके पीछे भगवान बुद्ध का अपमान माना जाता है। ऐसे मामले में, आपको फोटो को हटाने के लिए मजबूर किया जाएगा और यदि आप ऐसा नहीं करेंगे तो पुलिस को बुलाया जाएगा। श्रीलंका में आपको केवल बुद्ध की मूर्ति के बगल में खड़े होकर फोटो क्लिक करने की अनुमति है, जिसमें आपका शरीर मूर्ति के सामने की ओर हो।

सिंगापुर: च्युइंग गम चबाना मना है

कानून: अगर आप सिंगापुर में रहते हुए च्युइंग गम खाने की सोच रहे हैं तो इस विचार को तुरंत अपने मन से हटा दीजिए। इसकी वजह यह है कि सिंगापुर ने 1992 से च्युइंग गम की बिक्री और उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। जो कोई भी इसे बेचते या रखते हुए पाया जाता है, उसे 100,000 अमेरिकी डालर का भारी जुर्माना देना पड़ता है। इसके अलावा, दो साल तक की जेल भी हो सकती है।

कारण: सिंगापुर के कानून के अनुसार, च्युइंग गम पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के लिए जिम्मेदार है क्योंकि उन्हें सड़ने और जमा होने में कई साल लग जाते हैं। बैन इसलिए भी लगाया गया था क्योंकि बदमाशों ने ट्रेनों के दरवाजे के सेंसर, मेलबॉक्स, कीहोल के अंदर, लिफ्ट के बटन, सीढ़ी और जहां भी सफाई करना मुश्किल होता है, वहां च्यूइंग गम चिपकाना शुरू कर दिया था।

थाईलैंड: पैसों पर पैर रखना है गैर-कानूनी

कानून: थाईलैंड में पैसे को आप किस तरह से अपने पास रखते हैं, इसे लेकर भी एक कानून बनाया गया है। यहां पर आपको पैसों पर पैर रखने की इजाजत नहीं है।

कारण: दरअसल, थाई कंरसी पर देश के शाही परिवार की तस्वीरें छपी हुई हैं। ऐसे में माना जाता है कि अगर लोग पैसों पर पैर रखते हैं तो इससे शाही परिवार की छवि खराब होती है। ऐसा करना कानून के खिलाफ है और ऐसा करने पर सजा का प्रावधान भी है।

अलास्का, वरमोंट, मेन और हवाई में होर्डिंग पर है बैन

कानून: चार अमेरिकी राज्यों ने होर्डिंग पर प्रतिबंध लगा रखा है क्योंकि वे अपनी प्राकृतिक सुंदरता को बनाए रखना चाहते हैं।

कारण: इससे उनका कहना है कि होर्डिंग न लगाने से पर्यटक उनके राज्य में आने के लिए आकर्षित होंगे।

यह भी पढ़ें- Encounter Specialist: कहानी उन वर्दीवालों की जिनके नाम से छूट जाते हैं बदमाशों के पसीने, सुपरकॉप जो कहलाए एनकाउंटर स्पेशलिस्ट

ग्रीस: कुछ ऐतिहासिक स्थलों पर ऊंची एड़ी के जूते पहनना प्रतिबंधित

कानून: 2009 में, ग्रीक प्रागैतिहासिक और शास्त्रीय पुरावशेषों के डायरेक्टर ने कहा था कि महिला पर्यटकों को ऐसे जूते पहनने चाहिए जो स्मारकों को नुकसान न पहुंचाएं।

कारण: इन स्मारकों पर ऊंची एड़ी के जूते छेद कर सकते हैं क्योंकि हील्स पर पूरे शरीर का दबाव पड़ता है।

यह भी पढ़ें- Indian Air Force Day 2022: गीता के इस सूक्त से प्रेरणा लेती है भारतीय वायुसेना, देखें बड़े ऑपरेशन

Edited By: Babli Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट