नई दिल्ली, एजेंसियां। कोरोना की रोकथाम के लिए देश में शनिवार 16 जनवरी से एक साथ शुरू होने जा रहे टीकाकरण अभियान के पहले दिन करीब तीन लाख स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। स्वास्थ्य कर्मियों को यह टीका नि:शुल्क लगेगा। इसका खर्च केंद्र सरकार उठाएगी। वहीं दूसरी ओर टीकाकरण अभियान की तैयारियां बुधवार को भी जोर-शोर से चलती रहीं। जम्मू कश्मीर से लेकर केरल और असम से लेकर गोवा तक देश के कोने-कोने में वैक्सीन पहुंचाने का काम जारी रहा।  

देश के 11 बड़े शहरों में पहुंची वैक्‍सीन 

पहले स्वदेशी टीके कोवैक्सीन की खेप भी बुधवार को हैदराबाद के अलावा देश के 11 बड़े शहरों को पहुंचा दी गई। पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड की खेप मंगलवार को देश के 13 बड़े शहरों में पहुंचाने के बाद बुधवार को भी अन्य शहरों को पहुंचाई गई। इसके बाद बड़े शहरों से छोटे शहरों और जिला मुख्यालयों तक वैक्सीन को सुरक्षित पहुंचाने का काम शुरू हो गया।

2934 केंद्रों पर लगेगा टीका 

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि शनिवार को देश के 2934 केंद्रों पर कोरोना का टीका लगाया जाएगा। पहले 5000 केंद्रों पर टीका देने की तैयारी थी लेकिन व्यवस्था सुचारु बनाए रखने के लिए केंद्रों की संख्या में कटौती की गई। दिल्ली में 89 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू होना था लेकिन अब यह संख्या घटाकर 75 कर दी गई है। हालांकि मंत्रालय ने आने वाले दिनों में केंद्रों संख्या बढ़ाए जाने की बात कही है। 

हर केंद्र पर 100 लोगों का टीकाकरण 

इसी तरह राज्यों से किसी भी केंद्र पर हर दिन प्रत्येक सत्र में अधिकतम सौ लोगों को टीकाकरण के लिए बुलाने की सलाह दी है। इससे टीकाकरण केंद्रों पर व्यवस्था बनी रहेगी। यह वैक्सीन वरीयता के आधार सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर को मुफ्त लगाई जाएगी। टीका लगवाने वाले को चार हफ्ते में दूसरी डोज लेनी होगी।

भारत बायोटेक ने पहली खेप रवाना की 

स्वदेशी टीका कोवैक्सीन विकसित करने वाली हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक ने बताया कि सरकार से 55 लाख डोज का आर्डर मिलने के बाद उसने बुधवार को वैक्सीन की पहली खेप रवाना कर दी। इसके साथ ही कंपनी ने 16.5 लाख डोज सरकार को मुफ्त मुहैया कराने की घोषणा की है। उसके एक वायल से 20 डोज तैयार किए जाते हैं। 

विमानों के जरिए रवाना की गई खेप 

कंपनी ने बताया कि बुधवार तड़के वैक्सीन को विमानों के जरिये गनावरम, गुवाहाटी, पटना, दिल्ली, कुरक्षेत्र, बेंगलुरु, पुणे, भुवनेश्वर, जयपुर, चेन्नई व लखनऊ भेजा गया। इन शहरों से छोटे शहरों और जिला मुख्यालयों को वैक्सीन पहुंचाने का काम शुरू कर दिया गया। 

सीरम ने 95 फीसद आपूर्ति पूरी की 

उधर कोविशील्ड बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया की ओर से बताया गया कि पहले चरण में उसे 1.1 करोड़ डोज सप्लाई करने का आर्डर मिला है। इस खेप का 95 फीसद हिस्सा कंपनी ने रवाना कर दिया है।

22 शहरों को भेजी गई वैक्‍सीन 

मुंबई एयर पोर्ट अथारिटी ने बताया कि बुधवार को कोविशील्ड की 2,72,400 डोज देश के 22 शहरों को भेजी गई। गो एयर की पहली उड़ान 23,500 डोज लेकर गोवा के लिए रवाना हुई। इसके बाद स्पाइसजेट, गोएयर और विस्तारा के विमानों से बागडोगरा, राजकोट, रांची, इंफाल, अगरतला, कोचीन, भोपाल, कानपुर, जम्मू, श्रीनगर, लखनऊ, चंडीगढ़, गोरखपुर, रायपुर, देहरादून, वाराणसी, इंदौर, तिरुअनंतपुरम और जबलपुर वैक्सीन की खेप भेजी गई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021