नई दिल्ली, एएनआइ। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में आयोजित 73 वें दिल्ली पुलिस स्थापना दिवस की परेड (73rd Raising Day Parade of Delhi Police) में हिस्सा लिया। नई पुलिस लाइंस, किंग्सवे कैंप (New Police Lines, Kingsway Camp) में इसका आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में अमित शाह मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किए गए थे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि यह गर्व की बात है कि दिल्ली पुलिस की शुरुआत भारत के लौह पुरुष सरदार पटेल ने की थी। मुझे यकीन है कि यह भी पूरे संगठन को प्रेरणा प्रदान कर रहा है।

 

इसके साथ ही अमित शाह ने अपने संबोधन में कहा कि मैं सभी लोगों से निवेदन करता हूं कि जब भी कभी आप दिल्ली में आते हैं तो पुलिस मेमोरियल पर जरूर जाए और 35,000 शहीदों को श्रद्धांजलि आर्पित करें, जिन्होंने राष्ट्र के लिए अपनी जान का बलिदान दिया।

इसके साथ ही अमित शाह ने कहा कि पुलिस किसी की दुश्मन नहीं है। पुलिस शांति और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने का काम बिना किसी जाति को देखकर करती है। पुलिस सभी लोगों को जरुरत पर मदद करती है। उन्होंने कहा कि पुलिस शांति और व्यवस्था की दोस्त है। इसलिए सदैव पुलिस का सम्मान किया जाना चाहिए।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी जी ने कहा था कि हमें समझना चाहिए कि पुलिस हमारी सुरक्षा के लिए है। इसको ध्यान में रखते हुए केवल उसकी आलोचना या उपद्रवियों की तरफ से उन्हें निशाना बनाना सही नही हैं। पुलिस के काम को समझना चाहिए। गौरतलब है कि पिछले जामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों के साथ बर्बता को लेकर दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाया जा रहा है। ऐसे में दिल्ली पुलिस की छवि लगातार खराब होती जा रही है। इससे पहले भी तीस हजारी कोर्ट में वकील और पुलिसकर्मी की झड़प पर प्रश्न उठ चुके हैं।

Edited By: Pooja Singh