इंदौर, एजेंसी। मध्य प्रदेश के उज्जैन संसदीय सीट से सांसद अनिल फिरोजिया ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की चुनौती स्वीकार करते हुए अपना वजन कम कर लिया। अब फिरोजिया ने दावा किया है कि उन्होंने अपना 15 किलो वजन घटा लिया है। उन्होंने यह भी कहा है कि वे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात करके क्षेत्र के विकास के लिए 15 हजार करोड़ रुपये की मांग करेंगे।

दरअसल, अनिल फिरोजिया नितिन गडकरी से क्षेत्र के विकास के लिए लगातार बजट की मांग कर रहे थे। तब गडकरी ने उनके सामने एक शर्त रखी। कि अगर वो अपना वजन कम करते हैं, तो प्रत्येक किलोग्राम की एवज में क्षेत्र के विकास के लिए 1000 हजार करोड़ का बजट दिया जाएगा। नितिन गडकरी से चैलेंज मिलने के बाद सांसद अपना वजन कम करने के अभियान पर जुट गए। बताया जा रहा है कि फरवरी में फिरोजिया का वजन 125 किलोग्राम था। सांसद ने कहा कि नितिन गडकरी ने मंच से यह ऐलान किया था कि मैं जितने किलो वजन कम करूंगा, उनके मंत्रालय से मेरे संसदीय क्षेत्र के लिए उतने हजार करोड़ रुपए का फंड मिलेगा।

गडकरी से अनुरोध अपना वादा पूरा करें: फिरोजिया

फिरोजिया ने कहा कि गडकरी ने उन्हें फिट होने के लिए प्रेरित किया। मैं इस समय फिटनेस के लिए नियमों का पालन कर रहा हूं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंच पर मुझे कहा था कि मैं उज्जैन में विकास कार्यों के लिए एक किलो वजन कम करने पर 1,000 करोड़ रुपए दूंगा। मैंने इसे चुनौती के रूप में लिया,अब तक मैंने 15 किलो वजन कम किया है। उनसे अनुरोध है कि उनके द्वारा किया गया वादा वे पूरा करें।

फिरोजिया ने ऐसे कम किया वजन

फिरोजिया सुबह की शुरुआत घर में बने छोटे से बागीचे में कसरत के साथ करते हैं। काफी देर तक वजन कम करने संबंधी व्यायाम करते हैं फिर साइकिल चलाते हैं। वे संतुलित आहार ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि 15 किलो वजन घटाने के बाद अब वो गडकरी से विकास कार्यों के लिए 15,000 करोड़ रुपये मांगने का हकदार हूं। उन्होंने कहा कि वह अपना वजन कम करना जारी रखेंगे ताकि उनके लोकसभा क्षेत्र को विकास के लिए अधिक धन मिल सके।

बता दें कि केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी 24 फरवरी को उज्जैन पहुंचे थे। उन्होंने विकास कार्यों की घोषणाओं के बीच सेहत पर भी सलाह दी और सांसद अनिल फिरोजिया को चैलेंज दे डाला। इसे कबूल कर 4 महीने में सांसद ने 15 किलो वजन घटा लिया।

Edited By: Sanjeev Tiwari