श्रीनगर, आईएएनएस। श्रीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव का पुनर्मतदान समाप्त होने के बाद ट्रेन और इंटरनेट सेवाओं को बहाल कर दिया गया है। घाटी में ट्रेन और इंटरनेट सेवा फिर बहाल होने से जनजीवन सामान्य हो गया है। उत्तर कश्मीर के बारामूला शहर से जम्मू के बानिहाल शहर के बीच ट्रेन सेवा को पांच दिन बाद बहाल किया गया है। जबकि 8 अप्रैल को मोबाइल पर इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इंटरनेट सेवाओं को भी गुरुवार शाम को बहाल किया गया। एक दिन बाद लैंडलाइन पर ब्रॉडबैंड सर्विस को भी शुरू कर दिया गया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बडगाम जिले में 38 मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न होने और हालत में सुधार के मद्देनजर इंटरनेट सेवाएं फिर से बहाल कर दी गयी हैं। श्रीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए पिछले रविवार को मतदान हुआ था, लेकिन बड़े पैमाने पर हिंसा होने के कारण 38 मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान करवाया गया।

बडगाम में अलगाववादियों का विरोध-प्रदर्शन

9 अप्रैल को मतदान के दिन जिन 8 लोगों की मौत हुई थी उनकी याद में शुक्रवार को अलगाववादियों ने 'बडगाम चलो' की अपील की है। अलगाववादियों ने सभी लोगों को बडगाम जाकर जुमे की नमाज अदा करने को कहा है। जुमे की नमाज के बाद अलगाववादियों ने विरोध-प्रदर्शन करने को कहा है। पुलिस प्रशासन ने एहतियातन बडगाम में धारा-144 लगा दी है। इसके साथ-साथ श्रीनगर के पुराने शहर में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे।

यह भी पढ़ें: श्रीनगर के 38 केंद्रों पर पुनर्मतदान में पड़े महज 709 वोट

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस