जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में अलवर जिले के गुगड़ोद गांव में एक दलित महिला के साथ रास्ते में लूट, मारपीट और छेड़खानी करने का मामला सामने आया है। महिला और उसके परिजनों ने जब इस मामले में आरोपित युवक फकरू को समझाने का प्रयास किया तो उसने अपने दोस्तों के साथ पीड़ित महिला की पिटाई कर दी। फकरू और उसके दोस्तों ने महिला के साथ उसके परिजनों पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया। मौके पर मौजूद लोगों ने इसका वीडियो भी बना लिया।

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। समुदाय विशेष के दबंगों की दलित महिला के साथ की गई दबंगई की घटना से गांव में तनाव का माहौल है। रामगढ़ के पुलिस थाना अधिकारी भरत महर ने बताया कि गुगड़ोद निवासी विजय सिंह जाटव की पत्नी रीना ने मामला दर्ज कराया है कि सोमवार की शाम वह एसबीआई बैंक रामगढ़ में पैसे निकालने गई थी।

शाम को करीब 6 बजे जब वह गुगाड़ोद लौट रही थी तो बीच रास्ते में जुम्मे खां के बेटे फखरू ने उसकी स्कूटी के सामने मोटरसाइकिल लगाते हुए जातिसूचक शब्द कहे और उसके 5 हजार रुपए छीन लिए। इसका विरोध करने पर मारपीट कर उसके कपड़े फाड़ डाले और जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया।

वह बड़ी मुश्किल से जान बचाकर घर पहुंची और परिजनों को इस घटना की जानकारी दी। महिला के परिजन इस बारे में बात करने के लिए फकरू के घर गए तो उसके दोस्तों रशीद, छग्गू, जाकर, सुन्ना, मुबीन, हन्नी, साबिद और कासिम ने लाठी-डंडों से उन पर हमला कर दिया। उन्हे जातिसूचक शब्द भी कहे गए।

मारपीट में दलित वर्ग के आधा दर्जन लोग घायल हो गए। पुलिस ने अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति नृशंसता निवारण अधिनियम, मारपीट एवं लूट की धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Edited By: Nitin Arora