नई दिल्ली, एएनआई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के अंतिम दिन केरल के कोझीकोड़ में पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म शताब्दी के मौके पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर पीएम ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कोझीकोड़ में ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय को जनसंघ का अध्यक्ष बनाया गया था। पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय के मंत्र पर काम किया था।

पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक बार किसी ने प्रधानमंत्री से पूछा था कि आप कब तक प्रधानमंत्री बने रहेंगे तो प्रधानमंत्री ने जवाब दिया था कि जब कोई एवरेस्ट पर्वत पर जाता है तो वो वहां रहने नहीं जाता है बल्कि इतिहास बनाने जाता है।

पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी ने कोझीकोड में किया भाजपा कैडर को संबोधित, जानिए मुख्य बातें

उन्होंने कहा कि हम उस यात्रा का हिस्सा नहीं हैं। पीएम ने कहा कि अगर हम राजनीति में फायदे के लिए आते हैं तो हमें अपने मूल्यों के साथ कहीं ना कहीं समझौता करना पड़ेगा। पीएम ने कहा कि भाजपा का असल चरित्र जनसेवा पर आधारित है क्योंकि भाजपा कभी अपने मूल्यों से समझौता नहीं करती।

पढ़ें- कोझिकोड में बोले शाह- पीएम मोदी का जिक्र कर गर्व से चौड़ा हो जाता है सीना

मुसलमानों को ना समझें वोट बैंक- पीएम

पंडित दीनदयाल उपाध्याय को याद करते हुए मोेदी ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी कहते थे कि मुसलमानों को केवल वोट बैंक या कमजोर तबका नहीं मानना चाहिए बल्कि उन्हें अपने बराबर समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि 50 साल पहले दीनदयाल उपाध्याय जी कहा करते थे कि मुस्लिमों को ना ही पुरस्कृत करें और ना ही उन्हें तिरस्कृत करें, बल्कि उन्हें परिष्कृत करें। पीएम ने आगे कहा कि दीनदयाल उपाध्याय जी कहते थे कि अगर सभी को बराबरी में लाना है तो ऊपर के लोगों को झुककर अपने हाथ वंचित लोगों तक बढ़ाना चाहिए।

पीएम ने कहा कि हमारी सरकार समाज के आखिरी व्यक्ति तक विकास का लाभ पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है।पर्यावरण को लेकर पीएम ने कहा कि आज दुनिया ग्लोबल वार्मिग की बात करती है मगर दीनदयाल उपाध्याय जी ने उस वक्त कहा था कि हमें अपने प्राकृतिक संसाधनों का सम्मान करना चाहिए। पीएम ने कहा अगल विचार रखने पर केरल में जैसे हमारे कार्यकर्ताओं पर जुल्म हुए वो लोकतंत्र में स्वीकार्य नही है क्योंकि लोकतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं है।

चुनाव प्रक्रिया पर व्यापक चर्चा की जरूरत- पीएम

पीएम मोदी ने चुनाव प्रक्रिया को लेकर कहा कि चुनाव प्रक्रिया में सुधार के लिए व्यापक चर्चा करने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया को लेकर पूरे देश में व्यापक तौर पर चर्चा होनी चाहिए।

पढ़ें- 'मन की बात' में बोले पीएम मोदी- सेना बोलती नहीं बल्कि पराक्रम दिखाती है

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस