नई दिल्ली, एएनआइ। इजरायल के अश्केलोन शहर में राकेट हमले में मारी गई केरल की महिला सौम्या संतोष का पार्थिव शरीर भारत लाया जा रहा है। विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा कि उनका पार्थिव शरीर शनिवार को उनके घर भेज दिया जाएगा। मुरलीधरन ने ट्वीट किया, राकेट हमले का शिकार हुई सौम्या संतोष का पार्थिव शरीर इजरायल से दिल्ली के रास्ते केरल भेजा जा रहा है। इस अवसर पर दिल्ली में मैं खुद उपस्थित रहूंगा। उनकी आत्मा को शांति मिले।

बताते चलें कि केरल के इडुक्की की रहने वाली सौम्या संतोष मंगलवार को फलस्तीनी इस्लामिक समूह के राकेट हमले में मारी गई थीं। वह इजरायल के अश्केलोन शहर में एक बुजुर्ग महिला के घर में केयर टेकर के तौर पर रहती थीं। अश्केलोन शहर की सीमा गाजा पट्टी से मिलती है। सौम्या के स्वजनों के अनुसार, वह पिछले सात वर्षो से इजरायल में रहती थीं। उनके पति अपने नौ साल के बेटे के साथ केरल में रहते हैं।

इससे पहले केरल के मुख्य मंत्री पिनराई विजयन ने कहा था कि उनकी सरकार विदेश मंत्रालय और दिल्ली स्थिति इजरायली दूतावास के संपर्क में है ताकि सौम्या संतोष के शव को उनके घर तक लाया जा सके। 

इजरायल और फलस्तीन के बीछ छिड़ा है युद्ध

बता दें कि इजरायल और फलस्तीन के बीच अब युद्ध तेज हो गया है। इजरायल ने गाजा में जमीन के नीचे सुरंग में बनाए गए हमास के ठिकानों को नष्ट करने के लिए भीषण बमबारी की। इजरायल की तोपों ने भी लगभग चालीस मिनट तक गोले बरसाए। फलस्तीनी अधिकारी के अनुसार अब तक 119 लोगों की मौत हो गई है, इनमें 31 बच्चे और 19 महिलाएं हैं। यहां 830 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। इजरायल में मरने वालों की संख्या आठ है। इनमें छह नागरिक हैं।