कोयंबटूर, प्रेट्र । राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने गुरुवार को भी केरल-तमिलनाडु आइएस माड्यूल मामले में छापामारी जारी रखी। एक दिन पहले जांच एजेंसी ने कोयंबटूर में सात जगहों पर छापामारी करने के साथ ही इस माड्यूल के सरगना अजरुद्दीन को गिरफ्तार किया था और पूछताछ के लिए छह लोगों को हिरासत में लिया था।

अजरुद्दीन श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए आत्मघाती हमलों के मास्टरमाइंड जहरान हाशिम का फेसबुक फ्रेंड था।राजस्व और पुलिस अधिकारियों ने तीन अन्य लोग मुहम्मद हुसैन, शाहजहान और हयातुल्ला के घरों की तलाशी 4:30 बजे भोर से शुरू कर दी। एनआइए ने 30 मई को कोयंबटूर के अजरुद्दीन, शेख हिदायतुल्लाह, अकरम सिंधा, अबूबकर एम, सधाम हुसैन और इब्राहिम उर्फ शाहिन के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

सभी पर युवकों को भर्ती करने और दक्षिण भारत में खास तौर से तमिलनाडु और केरल में आतंकी हमले की योजना बनाने का आरोप है।बुधवार को छापामारी के दौरान अधिकारियों ने मोबाइल फोन, लैपटाप, पेन ड्राइव और आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए थे। गिरफ्तार अजरुद्दीन माड्यूल का सरगना है और वह खलीफाजीएफएक्स नाम से फेसबुक पेज की देखरेख कर रहा था।

इसके माध्यम से उसने आइएस की विचारधारा का प्रचार किया।अधिकारी मामले के सिलसिले में अजरुद्दीन को कोच्चि ले जा सकते हैं। अन्य पांच को भी कोच्चि कोर्ट में पेश होने को कहा गया है। आइएस ने श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार आत्मघाती बम विस्फोटों की जिम्मेवारी ली थी। इन धमाकों में नौ आत्मघाती हमलावर शामिल थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ayushi Tyagi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस