नई दिल्ली, एएनआई: कर्नाटक में कोविड-19 ओमिक्रोन वैरिएंट के दो पाजिटिव मरीज मिलने के बाद, अब दिल्ली में 12 लोगों के संक्रमित होने की खबर सामने आई है। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि, ओमिक्रोन वैरिएंट से संक्रमित होने के शक के चलते सभी लोगों को राजधानी के लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही खबर है कि आठ ओमिक्रोन संदिग्धों को गुरुवार को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तो वहीं, चार संदिग्ध मरीजों को आज अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आज भर्ती किए गए लोगों में से दो का कोरोना टेस्ट पाजिटिव आया है। तो वहीं, दो के टेस्ट रिजल्ट आने अभी बाकी हैं। चारों संदिग्धों में से दो ब्रिटेन से, एक फ्रांस से और एक नीदरलैंड की यात्रा से वापस आए हैं। चारों संदिग्धों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएंगे।

कर्नाटक में भी मिले केस

इससे पहले गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी थी कि कर्नाटक में संभावित रूप से अधिक संक्रामक कोरोनावायरस के स्ट्रेन ओमिक्रोन के दो मामलों का पता चला है। वहीं, कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डा. के सुधाकर ने मीडिया को बताया कि दो लोग कोविड-19 के ओमिक्रान वैरिएंट से संक्रमित पाए गए हैं। जिसमें से एक व्यक्ति लगभग 66 वर्ष का है और वो दक्षिण अफ्रीकी नागरिक है, जो वापस चला गया है। वहीं, दूसरा व्यक्ति 46 वर्षीय डॉक्टर है, लेकिन उनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं हैं।

दक्षिण अफ्रीका में मिला नया वैरिएंट

गौरतलब है कि, कोविड-19 के नए वैरिएंट ओमिक्रान का विश्व में पहला केस 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से सामने आया था। जिसकी जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के हवाले से जारी की गई थी। WHO के मुताबिक, ओमिक्रान वैरिएंट का पहला मामला 9 नवंबर को लिए सैंपलों में से सामने आया था। पहला मामला सामने आने के अगले ही दिन 26 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना के नए वैरिएंट को WHO ने ‘ओमिक्रान’ नाम दिया था।

Edited By: Amit Singh