नई दिल्ली, जेएनएन।Supreme Court Verdict Today, आज सुप्रीम कोर्ट ने तीन बड़े मामलों पर फैसला सुनाया है। कोर्ट ने राफेल विमान सौदे, सबरीमाला विवाद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अवमानना मामले में अपना निर्णय दिया है। राहुल गांधी को जहां सुप्रीम कोर्ट ने राफेल चौकीदार चोर है वाले बयान पर माफी देते हुए नसीहत दी है, वहीं राफेल मामले में पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया है। इसके साथ ही सबरीमाला मंदिर पर फैसला सुनाए हुए कोर्ट ने इसे बड़ी बेंच को सौंप दिया है।

Supreme Court Verdict Today LIVE Updates:

राहुल गांधी को सुप्रीम कोर्ट से माफी

सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को 'चौकीदार चोर है' वाले बयान पर माफ कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ राफेल मामले में उनकी 'चौकीदार चोर है' टिप्पणी को गलत ठहराते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना ​​याचिका को खारिज कर दिया है। अदालत ने कहा कि गांधी द्वारा की गई टिप्पणी सच्चाई से दूर थी और उन्हें ऐसी टिप्पणियों से बचना चाहिए था और सावधान रहना चाहिए था।

सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ गलत तरीके से अदालत में शिकायत करने के लिए दायर याचिका को खारिज किया है।सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को नसीहत देते हुए  अदालत में अपनी टिप्पणी के लिए भविष्य में अधिक सावधान रहने के लिए कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ राफेल मामले में उनकी 'चौकीदार चोर है' टिप्पणी को गलत ठहराते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना ​​याचिका को खारिज कर दिया है। अदालत ने कहा कि गांधी द्वारा की गई टिप्पणी सच्चाई से दूर थी और उन्हें ऐसी टिप्पणियों से बचना चाहिए था और सावधान रहना चाहिए था।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई और जस्टिस एस के कौल और के एम जोसेफ ने कहा कि किसी भी सत्यापन के बिना राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री के खिलाफ कुछ टिप्पणी की गई थी, जो प्रधानमंत्री के खिलाफ थी।

राफेल पर याचिका खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले में दायर पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने 14 राफेल जेट के सौदे को बरकरार रखते हुए 14 दिसंबर 2018 के फैसले के खिलाफ राफेल समीक्षा याचिकाओं को खारिज कर दिया है।

सबरीमाला केस को बड़ी बेंच को सौंपा

सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला केस को बड़ी बेंच को सौंप दिया है। इस मामले की सुनवाई को 7 जजों की बड़ी बेंच को भेज दिया गया है। इस फैसले के साथ ही सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर रोक हट गई है।एएनआइ के मुताबिक भारत के मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि पूजा स्थलों में महिलाओं का प्रवेश इस मंदिर तक सीमित नहीं है, इसमें मस्जिदों और पारसी मंदिरों में महिलाओं का प्रवेश भी शामिल है।' सुप्रीम कोर्ट ने सभी आयु वर्ग की महिलाओं के सबरीमाला मंदिर में प्रवेश की अनुमति देने वाले फैसले के खिलाफ समीक्षा याचिका पर अपना फैसला सुनाया है। 

सुप्रीम कोर्ट ने 3:2 के बहुमत से समीक्षा याचिकाओं को बड़ी बेंच को सौंप दिया है।न्यायमूर्ति रोहिंटन फली नरीमन और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ इस फैसले के विपक्ष में रहे।

तीन अहम फैसले दिए

राफेल : राफेल सौदा मामले में मोदी सरकार को क्लीन चिट देने के पूर्व फैसले की समीक्षा की मांग वाली अजिर्यों पर कोर्ट ने फैसला दिया।

राहुल गांधी : भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दायर आपराधिक अवमानना याचिका पर भी फैसला दिया।

सबरीमाला : केरल के सबरीमाला मंदिर में सभी आयु की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के कोर्ट के फैसले पर पुनर्विचार याचिका पर फैसला दिया।

राफेल विवाद मामला

फ्रांस से साथ किए गए इस समझौते में केंद्र सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे, जिसके बाद इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। इसमें मामले की जांच, खरीदने की प्रक्रिया, पीएमओ के दखल पर सवाल खड़े किए गए थे। हालांकि राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में केंद्र सरकार को राहत दी थी। इसके बाद मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की थी।

राहुल गांधी अवमानना मामला

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनावों के दौरान राफेल विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के एक विवादास्पद टिप्पणी की थी।राहुल गांधी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने मान लिया है कि चौकीदार चौर है। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने याचिका दायर की थी।

सबरीमाला केस

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर सुप्रीम कोर्ट ने पिछले वर्ष फैसल सुनाते हुए 10 से 50 साल की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की इजाजत दे दी थी ।कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ कुल 65 याचिकाएं दायर की गई हैं। जिनमें 56 पुनर्विचार याचिका, 4 नई याचिकाएं और 5 ट्रांसफर याचिकाए थीं।

इसे भी पढ़ें: Rahul Gandhi के 'चौकीदार चोर है' के बयान पर SC का फैसला

इसे भी पढ़ें: जानें- क्‍या है सबरीमाला का पूरा मामला, जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला

इसे भी पढ़ें: Rafale Verdict: जानें क्‍या है Rafale deal विवाद, सुप्रीम कोर्ट का आया फैसला

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप