नई दिल्ली, पीटीआइ। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुरुवार को कहा कि दिलीप कुमार अपने जीवनकाल में एक महानायक थे और भविष्य में भी रहेंगे। उनके निधन से भारतीय सिनेमा का स्वर्ण युग समाप्त हो गया है। दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो को अपने शोक संदेश में, उन्होंने कहा कि अभिनेता ने कला और संस्कृति की दुनिया में अपने समृद्ध योगदान के माध्यम से एक अमूल्य विरासत छोड़ी है।

सोनिया गांधी ने अपने पत्र में कहा, 'आपके पति श्री दिलीप कुमार के निधन से भारतीय सिनेमा के स्वर्ण युग का अंत हो गया है। श्री दिलीप कुमार अपने जीवनकाल में एक लिजेंड थे और भविष्य में लिजेंड रहेंगे। गंगा जमुना, दाग, दीदार, मुगल ए आजम, नया दौर, मधुमती, देवदास, राम और श्याम जैसी फिल्मों में उनकी भूमिका को कौन भूल सकता है। अपनी सभी फिल्मों में उन्होंने अपने दर्शकों को मंत्रमुग्ध, प्रेरित और प्रभावित किया।

सोनिया गांधी ने आगे कहा कि भारत हमेशा दिलीप कुमार की स्मृति का सम्मान करेगा और उनके निधन पर उनके अनगिनत प्रशंसकों को गहरा दुख हुआ है। कांग्रेस प्रमुख ने बानो को लिखे अपने पत्र में कहा, 'मैं प्रार्थना करता हूं कि आपको इस क्षति  को सहन करने की शक्ति मिले। मेरी हार्दिक संवेदना आपके के साथ है।'

बता दें कि मुगल-ए-आजम, मधुमती, देवदास, कोहिनूर और गंगा-जमुना जैसी बेहतरीन फिल्मों में यादगार भूमिकाएं निभाने वाले 98 वर्षीय 'ट्रेजडी किंग' दिलीप कुमार का बुधवार सुबह करीब साढ़े सात बजे स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों के चलते मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में निधन हो गया। उन्हें राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। उनके पार्थिव शरीर को पहले बांद्रा स्थित उनके आवास पर लाया गया। जहां महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उनके बेटे आदित्य ठाकरे, फिल्म इंडस्ट्री से शाह रख खान, करण जौहर, धर्मेंद्र, अनिल कपूर, अनुपम खेर, रणबीर कपूर, विद्या बालन समेत कई नामीगिरामी सितारे उनके अंतिम दर्शनों के लिए पहुंच।

Edited By: Tanisk