Move to Jagran APP

संयुक्त किसान मोर्चा का एलान, फिर शुरू होगा आंदोलन; सरकार से रखी ये डिमांड

Farmers Protest देश में एक बार फिर किसान आंदोलन शुरू हो सकता है। संयुक्त किसान मोर्चा ने घोषणा की है कि वह लंबित मांगो को लेकर फिर से आंदोलन शुरू करेगा। संगठन ने प्रधानमंत्री और लोकसभा में नेता विपक्ष से मिलकर मांगों का ज्ञापन सौंपने का भी एलान किया है। जानिए इस बार क्या है किसान संगठन की मांगें।

By Agency Edited By: Sachin Pandey Thu, 11 Jul 2024 03:39 PM (IST)
संयुक्त किसान मोर्चा का एलान, फिर शुरू होगा आंदोलन; सरकार से रखी ये डिमांड
एसकेएम ने अपनी आम सभा की बैठक के एक दिन बाद आंदोलन की घोषणा की। (File Photo)

पीटीआई, नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बार फिर विभिन्न मांगो को लेकर आंदोलन शुरू करने का एलान किया है। किसान संगठन ने कहा है कि एमएसपी की कानूनी गारंटी और ऋण माफी सहित अपनी लंबित मांगों को लेकर आंदोलन फिर से शुरू किया जाएगा। साथ ही संगठन ने कहा है कि इन मांगो को रखते हुए प्रधानमंत्री और लोकसभा में विपक्ष के नेता को एक ज्ञापन सौंपा जाएगा।

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने अपनी आम सभा की बैठक के एक दिन बाद यह घोषणा की। संगठन ने कहा, 'आम सभा ने 9 दिसंबर, 2021 के समझौते को लागू करने की मांग को लेकर आंदोलन फिर से शुरू करने का फैसला किया है, जो केंद्र सरकार ने एसकेएम के साथ किया है और जिस पर भारत सरकार के कृषि विभाग के सचिव ने हस्ताक्षर किए हैं। साथ ही किसानों की आजीविका प्रभावित करने वाली अन्य प्रमुख मांगें रखी जाएंगी।'

'कॉर्पोरेट छोड़ो दिवस' मनाएगा एसकेएम

संगठन ने अपने बयान में कहा है कि सभी सांसदों को मांगों का एक चार्टर सौंपा जाएगा। संगठन ने कहा कि 9 अगस्त को एसकेएम अपनी मांगों के समर्थन में देश भर में प्रदर्शन करके "भारत छोड़ो दिवस" ​​को "कॉर्पोरेट भारत छोड़ो दिवस" ​​के रूप में मनाएगा।