नई दिल्ली, पीटीआई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को महान हिंदी कवि रामधारी सिंह दिनकर के जन्मदिन पर श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने कहा कि रामधारी सिंह दिनकर की कविताएं देश के नागरिकों के जीवन को हमेशा प्रेरित करती रहेंगी। प्रधानमंत्री ने इस लेकर ट्वीट किया है।

उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, "रामधारी सिंह दिनकर जी के जन्मदिन पर उनको दिल से श्रद्धांजलि अर्पित करता हुं। उनकी कविताएं न केवल साहित्य-प्रेमियों को बल्कि सभी देशवासियों को प्रेरणा देती रहेंगी।" बिहार के सिमरिया में जन्मे, रामधारी सिंह दिनकर की कविताएं आजादी के लिए चल रहे संघर्ष के दौरान काफी प्रचलित हुई थीं और लोग उनकी कविताओं से काफी प्रभावित हुए थे। उनके द्वारा किए गए कार्य हमेशा से राजनेताओं के लिए प्रेरणादायी रहे हैं। इतना ही नहीं देश में लागू इमरजेंसी के दौरान भी उनके द्वारा लिखी गई कविताएं काफी प्रचलित हुई थीं। दिनकर तीन बार राज्यसभा के सदस्य रहे चुके हैं। साल 1908 में उनका जन्म हुआ था और 1974 में इस महान कवि ने दुनिया से अलविदा ले ली थी।

पीएम मोदी ने लेह में पढ़ी थी दिनकर की रचना

चीन से जारी तनातनी के बीच भारतीय सेना के जवानों से मिलने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें संबोधित करते हुए रामधारी सिंह दिनकर की कविता की पंक्तियों को उद्धृत किया। पीएम मोदी का साहित्य से काफी जुड़ाव रहा है। एक बार उन्होंने कहा था कि हर घर मे पूजाघर की तरह एक पुस्तकालय अवश्य होना चाहिए। घर बनाते समय आर्किटेक्ट से नक्शे में पुस्तकालय के प्रावधान के लिए अनुरोध किया जाना चाहिए।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस