रायपुर, जेएनएन। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में जिस मौलाना अरशद रहमानी (25) को मासूम से दुष्कर्म के आरोप में जेल भेजा जा चुका है, उसे बचाने के लिए पीडि़त परिवार को धमकाया जा रहा है। केस वापस लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। नौ साल की मासूम की शादी दुष्कर्म के आरोपित मौलाना से कराने की घिनौनी बात भी कही जा रही है। पीडि़त पिता ने थाने में इसकी लिखित शिकायत की है।

पुलिस के अनुसार मामले की जांच शुरू कर दी गई है और उन लोगों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है, जिन्होंने पीडि़त परिवार को धमकाया है। उधर, पीडि़त के पिता का कहना है कि अगर इस मामले में अब भी कोई केस वापस लेने के लिए दबाव बनाता है या धमकी देता है, तो उसके खिलाफ थाने में नामजद केस दर्ज करवाएंगे। आरोपित मूलरूप से बिहार के बांका जिले के धौरैया थानाक्षेत्र स्थित ताहिरपुर हसाय गांव का रहने वाला है।

मौलाना की दरिंदगी की शिकार बच्ची के पिता ने थाने में दुष्कर्म के बाद एक और शिकायत दर्ज कराई है। इसमें कहा गया है कि मदरसे से जुड़े कुछ लोगों द्वारा केस वापस नहीं लेने पर बेटी को बदनाम करने और समाज से बहिष्कृत करने की धमकी दी जा रही है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तारकेश्वर पटेल ने बताया कि पीडि़त परिवार द्वारा दी गई इस शिकायत की जांच की जा रही है। गौरतलब है कि बच्ची को अरबी पढ़ाने के लिए घर में आने वाले मौलाना अरशद रहमानी ने उससे दुष्कर्म किया था। पुलिस ने रविवार देर रात को दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपित मौलाना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। आरोपित मौलाना पंडरी आदर्श नगर स्थित मदरसा में रह रहा था।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस