नई दिल्ली, एजेंसी। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों को ऐलान किया गया। इस दौरान डोगरा रेजिमेंट के मेजर शुभंग को शांतिकाल के दूसरे सर्वोच्च पुरस्कार कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया। आपको बता दें कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने 74वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर 412 वीरता पुरस्कारों और अन्य रक्षा अलंकरणों को मंजूरी दी। रक्षा मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी।

मेजर शुभंग ने असाधारण वीरता का दिया था परिचय

वीरता पुरस्कार हासिल करने वालों में मेजर शुभंग का भी नाम शामिल है। जिन्होंने जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एक ऑपरेशन के दौरान असाधारण वीरता का परिचय दिया। इस दौरान उन्होंने अपने युद्धकौशल का प्रदर्शन करते हुए एक आतंकवादी पर घातक हमला किया और उसे ढेर कर दिया था। साथ ही मेजर शुभंग ने घायल सैनिकों को बचाया था।

राष्ट्रपति मुर्मु ने लोकतांत्रिक गणराज्य का बताया महत्व, बोलीं- हम विभाजित नहीं बल्कि एकजुट हुए

वीरता पुरस्कारों का किया गया ऐलान

राष्ट्रपति ने 74वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर 412 वीरता पुरस्कारों और अन्य रक्षा अलंकरणों को मंजूरी दी। जिसमें 6 कीर्ति चक्र, 15 शौर्य चक्र, 92 सेना मेडल, 29 परम विशिष्ट सेवा मेडल समेत कई मेडल शामिल हैं। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, चार मरणोपरांत समेत 6 कीर्ति चक्र और दो मरणोपरांत समेत 15 शौर्य चक्र का ऐलान किया गया है।

Republic Day 2023: हर साल 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस, जानें इसका इतिहास और महत्व

Republic Day 2023: 74वां गणतंत्र दिवस होगा बेहद खास, परेड में दिखेगा 'मेड इन इंडिया' का जलवा

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट