नई दिल्ली, एएनआइ। पीएमसी और एचड़ीआइएल घोटाले (PMC and HDIL Scam) में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने विवा ग्रुप के एमडी मेहुल ठाकुर और निदेशक मदन गोपाल चतुर्वेदी को गिरफ्तार किया है। ईडी के अधिकाारियों ने यह जानकारी दी है। बता दें कि ईडी ने इस मामले में वीवा ग्रुप और उसके सहयोगी के साथ 5 स्थानों पर छापा मारा था। इस दौरान अधिकारियों को कुछ डिजिटल दास्तावेज मिले थे, जिसके आधार पर यह गिरफ्तारी हुई है।  बता दें कि पीएमसी घोटाले में कई अधिकारी के नाम सामने आ चुके हैं। अब इस मामले में यह नई गिरफ्तारी हैं। इससे पहले भी ईडी कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है।

पीएमसी बैंक मनी लांड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले दिनों शिवसेना नेता संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत से फिर पूछताछ करने के बारे में बताया था। 4,300 करोड़ रुपये की मनी लांड्रिंग के इस मामले में ईडी ने वर्षा राउत को पेश होने के लिए समन भेजा था। इससे पहले भी ईडी ने मनी लांड्रिंग रोधी कानून (पीएमएलए) के तहत वर्षा से मुंबई स्थित अपने कार्यालय में पूछताछ की थी।

ईडी बैंक लोन घोटाले के मामले में आरोपित प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी राउत की ओर से 55 लाख रुपये के फंड ट्रांसफर के मामले में वर्षा की भूमिका की जांच कर रही है। प्रवीण राउत इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी गुरु आशीष कंस्ट्रक्शंस का डायरेक्टर है। यह कंपनी इस मामले की आरोपित फर्म हाउसिंग डेवलपमेंट इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआइएल) की सब्सिडियरी है। प्रवीण राउत को राज्य पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया था। ईडी ने हाल में उसकी 72 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप