Move to Jagran APP

Viksit Bharat Sankalp Yatra: 'जो रह गए, उन्हें भविष्य में मिलेगा योजनाओं का लाभ', PM मोदी ने विकसित भारत संकल्प यात्रा का किया शुभारंभ

Viksit Bharat Sankalp Yatra मध्य प्रदेश राजस्थान छत्तीसगढ़ तेलंगाना और मिजोरम में विकसित भारत संकल्प यात्रा का वर्चुअल शुभारंभ करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विकसित भारत के संकल्प में शहरों की बड़ी भूमिका पर जोर दिया। अब तक चार संवाद ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थियों से कर चुके पीएम ने शनिवार को शहरी क्षेत्रों के लाभार्थियों पर ध्यान केंद्रित किया।

By Jagran NewsEdited By: Devshanker ChovdharyPublished: Sat, 16 Dec 2023 06:38 PM (IST)Updated: Sat, 16 Dec 2023 06:38 PM (IST)
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए। (फाइल फोटो)

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में विकसित भारत संकल्प यात्रा का वर्चुअल शुभारंभ करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विकसित भारत के संकल्प में शहरों की बड़ी भूमिका पर जोर दिया। अब तक चार संवाद ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थियों से कर चुके पीएम ने शनिवार को शहरी क्षेत्रों के लाभार्थियों पर ध्यान केंद्रित किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को दी गारंटी

गांव के गरीब से शहर की झुग्गी-झोपड़ी तक योजनाएं पहुंचाने के लक्ष्य को लेकर प्रतिबद्धता जताते हुए गारंटी दी कि जो रह गए हैं, उन्हें भी भविष्य में योजनाओं का लाभ मिलेगा। उन्होंने विभिन्न योजनाओं का लाभ ले चुके लाभार्थियों का आव्हान किया कि एंबेसडर बनकर दूसरों को भी बताएं कि उन्हें योजनाओं का फायदा किस तरह मिला है।

अलग-अलग राज्यों के शहरी लाभार्थियों से संवाद के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विकसित भारत के संकल्प के साथ मोदी की गारंटी वाली गाड़ी देश के कोने-कोने में पहुंच रही है। एक माह में यह यात्रा हजारों गांवों के साथ डेढ़ हजार शहरों में भी पहुंची है। इनमें छोटे शहर और कस्बे भी हैं। राज्य सरकारें विकसित भारत संकल्प यात्रा का अपने-अपने राज्यों में विस्तार करें।

पीएम मोदी ने पूर्व सरकारों पर साधा निशाना

चार बार ग्रामीण लाभार्थियों से संवाद का अनुभव साझा करते हुए उन्होंने कहा कि मन को संतोष मिलता है कि सरकार की योजनाएं गांवों तक, गरीबों तक पहुंची हैं। आज फोकस शहरी विकास से जुड़ी बातों पर है। विकसित भारत के संकल्प में हमारे शहरों की बहुत बड़ी भूमिका है।

यह भी पढ़ेंः राजस्थान औ मध्य प्रदेश समेत 5 राज्यों में शुरू हुई विकसित भारत संकल्प यात्रा, PM मोदी ने लाभार्थियों से की बात

पूर्व सरकारों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी बोले कि आजादी के लंबे समय तक कोई भी विकास कार्य हो, उसका दायरा बड़े शहरों तक सीमित था। आज हम टीयर-2 और टीयर-3 शहरों पर भी जोर दे रहे हैं। छोटे शहरों में मूलभूत सुविधाओं को बेहतर बनाया जा रहा है। इसका प्रभाव ईज आफ लिविंग और ईज आफ डूइंग बिजनेस पर पड़ रहा है। गरीब से लेकर संपन्न परिवारों तक इन सुविधाओं का लाभ मिल रहा है।

पीएम ने कोरोना काल के उदाहरण किए पेश

कोरोना काल में जनता के लिए किए गए तमाम निर्णयों का उल्लेखा करते हुए उन्होंने दोहराया कि जहां से दूसरों से उम्मीद खत्म हो जाती है, वहां से मोदी की गारंटी शुरू होती है। रेहड़ी-पटरी वालों को कोई पूछने वाला नहीं था। उन्हें बैंकिंग सिस्टम से जोड़ा। पीएम स्वनिधि योजना से बैंकों से सस्ता और आसान लोन मिल रहा है।

इस यात्रा के दौरान भी सवा लाख साथियों ने पीएम स्वनिधि योजना के लिए आवेदन किया है। 75 प्रतिशत से अधिक लाभार्थी दलित, पिछड़े और आदिवासी वर्ग के हैं, जबकि इनमें बड़ी संख्या महिलाओं की है। जिनके पास बैंक में देने के लिए गारंटी नहीं थी, उनके लिए मोदी की गारंटी काम आ रही है।

बीमा योजनाओं में 17 हजार करोड़ रुपये की क्लेम राशि के भुगतान का दावा करते हुए प्रधानमंत्री ने फिर विपक्षी दलों पर तंज कसा, कुछ राजनीतिक दल तो 200-400 करोड़ की योजना पर भी हेडलाइन बनवा देते हैं।

शहरों में रहने वाले बड़े लाभार्थी वर्ग का ध्यान आकृष्ट कराते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार गांवों से शहरों में रोजगार के लिए आने वालों की मदद कर रही है। वन नेशन, वन राशन कार्ड बनाया। सरकार का प्रयास है कि सबके पास पक्की छत हो। चार करोड़ से ज्यादा पक्के घर बनाए जा चुके हैं। इसमें से एक करोड़ से अधिक घर शहरी गरीबों को मिले हैं।

यह भी पढ़ेंः  PM मोदी और ओमान के सुल्तान के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता, भविष्य के लिए साझेदारी पर बनी सहमति

पीएम ने मीडिल क्लास के लोगों के लिए जताई चिंता

अमूमन गांव और गरीबों की बात करने वाले पीएम ने मध्यम वर्ग के प्रति भी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार मध्यम वर्ग के परिवारों का सपना पूरा करने के लिए भी हरसंभव प्रयास कर रही है। जिनके पास अपना घर नहीं है, उन्हें सही किराए पर घर मिले, इसकी चिंता भी सरकार कर रही है। किराए के घरों के लिए विशेष योजना बनाई है। अनेक शहरों में काम्प्लेक्स बनाए जा रहे हैं।

साथ ही कहा कि मोदी की गारंटी वाली गाड़ी युवा शक्ति और नारी शक्ति को और सशक्त कर रही है। जिन्हें योजनाओं का लाभ मिला है, वह लोगों को बताएं तो दूसरों को ज्यादा भरोसा होगा। सरकार का लक्ष्य गांव के गरीब से शहर की झुग्गी-झोपड़ी तक सरकार की योजनाएं पहुंचाने का है। आमजन से आव्हान किया कि यह संकल्प लेकर चलें कि 2047 तक देश विकसित होकर रहेगा।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.