बेंगलुरू, एएनआइ। PM Modi in India Energy Week प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बेंगलुरू में भारत ऊर्जा सप्ताह (IEW) 2023 का उद्घाटन किया। पीएम ने कहा कि भारत तेजी से ऊर्जा क्षेत्र में विस्तार कर रहा है और इस सेक्टर में अभूतपूर्व संभावनाएं हैं। पीएम ने कहा कि महामारी और युद्ध के प्रभाव के बावजूद 2022 में भारत एक चमकता सितारा बना रहा है। बता दें कि हरित ऊर्जा के क्षेत्र में भारत के बढ़ते कदम को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।

ट्विन-कुकटॉप मॉडल का अनावरण 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडिया एनर्जी वीक 2023 इवेंट में सबसे पहले इंडियन ऑयल द्वारा विकसित सोलर कुकिंग सिस्टम के ट्विन-कुकटॉप मॉडल का अनावरण किया। कार्यक्रम में 34 देशों के मंत्री और राष्ट्राध्यक्षों ने भाग लिया। इंडिया एनर्जी वीक 2023 6 से 8 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा।

इन 4 चीजों पर होगा काम

पीएम मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में 2030 तक ऊर्जा क्षेत्र में क्रांति आएगी। पीएम ने आगे कहा कि हमारी सरकार इसके लिए 4 मुख्य बिंदुओं पर काम करेगी। 

  • आत्मनिर्भर भारत के तहत घरेलू चीजों की खोज और प्रोडक्शन को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • आपूर्ति को तरजीह और कुछ नया करने की चाह को भी प्रोत्साहित किया जाएगा। 
  • तीसरा मुख्य बिंदू ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए बायोफ्यूल, एथेनॉल और सोलर एनर्जी के स्त्रोतों में इजाफा किया जाएगा।
  • पीएम ने कहा कि हम इलेक्ट्रिक वाहन और हाइड्रोजन के जरिए डीकार्बोनाइजेशन का काम भी करेंगे।

वैश्विक ऊर्जा परिवर्तन में भारत की भूमिका को दिखायगा कार्यक्रम

भारत ऊर्जा सप्ताह को संबोधित करते हुए पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा इंडिया एनर्जी वीक भारत की ऊर्जा सुरक्षा, हमारे नागरिकों के लिए सामर्थ्य और पहुंच सुनिश्चित करता है और वैश्विक ऊर्जा परिवर्तन में भारत की भूमिका के लिए पीएम की दीर्घकालिक दृष्टि को दर्शाता है।

इसलिए खास है कार्यक्रम

बता दें कि यह कार्यक्रम उन चुनौतियों और अवसरों पर चर्चा करने के लिए पारंपरिक और गैर-पारंपरिक ऊर्जा उद्योग, सरकारों और शिक्षा जगत के नेताओं को एक साथ लाएगा जो पर्यावरण को बचाने पर चर्चा करेंगे। कार्यक्रम के दौरान, प्रधानमंत्री वैश्विक तेल और गैस सीईओ के साथ एक गोलमेज बातचीत में भाग लेंगे। 

Edited By: Mahen Khanna